Health

अनिद्रा की परेशानी होने पर करें यह घरेलू उपचार – Insomnia causes and treatment in Hindi

insomnia-causes-and-treatment-in-hindi

अच्छी सेहत के लिए नींद का पूरा होना बेहद जरूरी है क्योंकि अगर आप सोएंगे नहीं तो आप ठीक नहीं हो पाएंगे. शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए नींद लेना सबसे बेहतरीन तरीका हैं. इंसान के शरीर को नींद की उतनी ही जरूरत होती है जितनी खाने पीने की, वहीं पर्याप्त नींद नहीं लेने से कार्यक्षमता पर बुरा असर पड़ता हैं. लेकिन बहुत से लोग ऐसे होते है जिनको नींद नही आती हैं. ऐसे ही लोगों को आज हम बताएंगे अनिद्रा के घरेलू उपचार लेकिन उससे पहले नींद न आने के कारण और समस्या जो इस प्रकार हैं.

अनिद्रा की समस्या

हर उम्र में शरीर को नींद की अलग अवधि की जरूरत पड़ती हैं. बात करें नवजात शिशु की तो वह 18 घंटे तक सोते हैं वहीं बड़ो को औसतन आठ घंटे की नींद की जरूरत होती हैं. पर्याप्त नींद न मिलने का सीधा असर हमारे शरीर की रोजमर्रा की दिनचर्या पर पड़ता हैं. जिसके कारण मधुमेह, वज़न का बढ़ना, उच्च रक्त चाप जैसी बीमारियाँ होने के आसार बढ़ जाते हैं.

डॉक्टरों के अनुसार हफ्ते में तीन बार पूरी रात न सोने को अनिद्रा समझा जाता हैं. यह दुनिया भर की आम स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है, जो किसी भी उम्र के पुरुषों और महिलाओं में हो सकती हैं. इन दिनों लोग विभिन्न प्रकार की अनिद्रा से पीड़ित हैं. तो उनके लिए हम बताएंगे अनिद्रा के घरेलू उपचार जो इस प्रकार हैं.

अनिद्रा के घरेलू उपचार

हरी पत्तेदार सब्जीयाँ लें – जिन सब्जियों के पत्ते बड़े होते है उसमें लिसलिसापन होता है जो नींद आने में काफी मदद करता हैं. पोरो और पालक की सब्जियों को नियमित रुप से खाने से बेहतर नींद आती हैं.

मैग्नीशियम और कैल्शियम – मैग्नीशियम और कैल्शियम दोनों ही नींद बढ़ाने वाले रसायन होते हैं. जब यह दोनों साथ में ली जाए तो और असरदार होती हैं. मैग्नीशियम भोजन में लेने से दिल की बीमारी का खतरा भी कम होता हैं.

एरोमाथेरेपी – यह एक तरह की सुगंध होती है और सुगंध का मस्तिष्क से गहरा संबध होता हैं. देखा जाता है कि बहुत से लोग तकिए के नीचे चमेली के फूल रख कर सोते हैं. वहीं कई लोग अपने बालकनी में रजनीगंधा या इसी तरह के सुगंधित फूलों के पौधे लगा कर रखते हैं. इससे रात में बेहतर नींद आती हैं. अनिद्रा से ग्रसित लोगों के लिए लेवेंडर के फूल भी काफी असरदार होते हैं. तकिए के नीचे इसके फूल रख देने से सुगंध पूरे कमरे में फैल जाती है और बेहतर नींद आती हैं.

योग और ध्यान – योग का अभ्यास और नियम से ध्यान लगाना अनिद्रा में बहुत महत्वपूर्ण होता हैं. याद रहें कि योग करने में ज्यादा कठिन आसन नहीं करें, कोशिश करें कि साधारण आसन करें जिससे मन को शांति मिलें. बेड पर जाने से पहले 5 से 10 मिनट तक ध्यान जरूर करें. ध्यान लगाने के दौरान कहीं भटके नहीं और मन को सिर्फ अपनी सांस पर एकाग्र रखें, ऐसा करने से रात में बेहतर नींद आएगी.

ग्रीन टी – ग्रीन टी में एल थियानिन नामक एमीनो एसिड होता हैं. इसे दिन में पीने से चुस्ती और ताजगी छाई रहती हैं. साथ ही इसे रात में पीने से गहरी नींद आती हैं.

0 Comments
Share

Kartik Bhardwaj

Hi guys! मेरे ब्लॉग डेली ट्रेंड्स में आपका स्वागत है, प्रोफेशनली में एक डिजिटल मार्केटर हूँ और हिंदी में ब्लॉग लिखना मुझे पसंद है. स्पोर्ट, एंटरटेनमेंट, टेक्नोलॉजी, न्यूज़ और पॉलिटिक्स मेरे पसंदीदा टॉपिक्स है जिन मुद्दों पर में लिखता हुँ, आप ऐसे ही मेरे ब्लॉग पड़ते रहें और शेयर करते रहें.

Reply your comment

Your email address will not be published. Required fields are marked*

About Us