Select Page

Coronavirus in hindi – कोरोनावायरस क्या है, इसके लक्षण, कारण, इलाज, प्रकार इन हिंदी

Coronavirus in hindi – कोरोनावायरस क्या है, इसके लक्षण, कारण, इलाज, प्रकार इन हिंदीScore 97%Score 97%

कोरोनावायरस या कोविड-19, आज के समय में पूरी दुनिया के लिए तीसरे विश्र्व युद्ध से ज्यादा बड़ा खतरा बनकर तेज़ी से फैल रहा है. इसके बहुत से कारण है और इसकी एंटी-डोट अभी तक बनकर तैयार नही हुई है.

इसको लेकर दुनिया में कई तरह के कयास लगाए जा रहे है कि यह क्यों हुआ, इसके कारण, लक्षण आदि. लेकिन इतनी बड़ी संख्या में लोगों का बिमार पड़ना और जान गवाना पूरी दुनिया के लिए चौकाने वाला है.

भारत की बात करें तो यहां सरकार द्वारा इसे बहुत ही गंभीरता से लिया जा रहा है. जिसका असर भी देखने को मिल रहा है. ऐसी बहुत सारी वस्तुएं जो सीधे चीन से आयात की जाती है उन्हें बैन किया जा चुका है. जबकि दवाओं के निर्यात पर भी रोक लगा दी गई है.

विदेशों से आने वाले लोगों पर सरकार की पैनी नज़र है. जिन लोगों को चीन से निकालकर भारत लाया गया है उन्हें विशेष अस्पतालों में रखा जा रहा है और जांच की जा रही है. जबकि विदेशों से आने वाले सभी लोगों की हवाई अड्डे पर थर्मल जांच की जा रही है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है कोरोना वायरस से जुड़ी अहम बातें –

कोरोनावायरस क्या है? What is coronovirus in hindi

अगर आसान भाषा में समझने की कोशिश करें तो यह एक ऐसा वायरस है जो पक्षियों, स्तनधारी जानवरों और इंसानों में रेस्पेट्री ट्रैक्ट(श्र्वसन पथ) का प्रभावित करता है.

डॉक्टरों के अनुसार सर्दी जुखाम, ब्रोनकाइटिस, निमोनिया और गंभीर तीव्र रेस्पीरेट्री सिंड्रोम आदि देखने को मिलते है.

शोधकर्ताओ की माने तो इसे सबसे पहले 1937 में पक्षियों में देखा गया. जबकि इंसानों में इसका मामला सबसे पहले 1960 के दशक में देखने को मिला, जहां अधिकत्तर लोगों को ज़ुखाम था.

सर्दियों के मौसम में इसके होने की संभावना काफी अधिक होती है और इससे पीड़ित व्यक्ति को सर्द मौसम में बार-बार बिमार पड़ते देखा गया है.

कोरोनावायरस के लक्षण – coronavirus symptoms in hindi

इसका इंफेक्शन हो जान के बाद –

अगर आपको कोई भी लक्षण महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर को संपर्क करें और सही रूप से आराम करें.

कोरोनावायरस का इलाज और रोकथाम – coronavirus treatment and prevention in hindi

  • सही मात्रा में पानी पीना
  • ठीक से आराम करना
  • अधिक थकान वाले काम न करना
  • स्मोकिंग न करना
  • धूल आदि जैसे वातावरण से दूर रहना
  • भाप लेना

भारत में देसी इलाज जैसे आयुर्वेद और होम्योपैथी विशेषज्ञों के अनुसार बहुत सारी दवाओं आदि का सेवन करने की बात कहा जा रही है. लेकिन सरकार द्वारा ऐसा कुछ भी स्पष्ट नही है. यह लोगों की अपनी निजी राय है कि वह कैसे स्वच्छता बनाए रखते है.

कोरोनावायरस के प्रकार – Types of Coronavirus in hindi

सबसे सामान्य प्रकारों में –

  • 229E (अल्फा कोरोनावायरस)
  • NL63 (अल्फा कोरोनावायरस)
  • OC43 (बीटा कोरोनावायरस)
  • HKU1 (बीटा कोरोनावायरस)

कोरोनावायरस कैसे फैलता है? coronavirus kaise failta hai

रिसर्च की माने तो इसका वायरस बलगम आदि से फैलता है. इसके अलावा –

  • संक्रमित व्यक्ति का बिना मुंह ढ़के, खांसना या छीकना
  • इंफेक्टेड व्यक्ति को चीज़ों को छूना और हाथ मिलाना
  • किसी संक्रमित वस्तु जैसे बैंक, अस्पताल आदि सावर्जनिक जगहों पर दरवाज़ों के हैडल, बस, मैट्रो आदि में बार्स को पकड़ना और अपने नाक, आंख या मुंह को छूना

इन सभी के अलावा कोरोनावायरस होने का खतरा छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं और 65 से अधिक आयु वाले लोगों में अधिक होता है.

कोविड-19 Covid-19 in hindi

इसकी शुरूआत दिसंबर 2019 को चीन के वुहान प्रांत से हुई, जहां पूरी दुनिया में सबसे अधिक 74 हज़ार से अधिक लोग इससे प्रभावित है. जबकि इसका असर यूएसए, ईरान, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, भारत समेत 25 देशों पर भी है.

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा इसे हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया जा चुका है.

अंत में

आपको बता दें कि इसकी शुरूआत वुहान की इस मार्केट से हुई थी जहां लोग ज़िदा जानवरों को खाते है. जिस कारण यह वायरस ज़िदा सांप खाने से इंसान के अंदर ट्रासमिट हुई और फैल गई. लेकिन बाद के मामलों में ऐसा कुछ भी नही देखा गया.

जबकि सोशल मीडिया पर आपको बहुत से ऐसे लोग भी मिल जाएंगे जो कहते है कि चीन ने बायो केमिकल वेपन (जैव हथीयार) बनाने की कोशिश करी, जो उसपर ही भारी पड़ गई.

इन सभी के अलावा बहुत से लोगों को नॉन-वेज खाने में डर लगना आदि की खबरें भी सुनने को मिली है लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि ठीक से पकाए जाने पर इससे कोई हानि नही है.

इसके अलावा, लोगों को स्वच्छता बनाए रखने, हर किसी को स्पर्श करने से बचनें. बाहर निकलने से पहले मास्क पहनने और सैनिटाइज़र का प्रयोग करने की जरूरत है. लेकिन इसमें सबसे जरूरी है कि सरकार द्वारा किसी भी चीज़ की कमी न हो पाएं जैसा कि मास्क और सैनिटाइज़र के मामलों में देखा जा रहा है.

Review

97%

CORONAVIRUS IN HINDI - कोरोनावायरस क्या है, इसके लक्षण, कारण, इलाज, प्रकार इन हिंदी
97%

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *