Select Page

गुहेरी के बारे में – eye stye home remedies in hindi

गुहेरी के बारे में – eye stye home remedies in hindi

इस लेख में आप जानेंगे गुहेरी के बारे में, यह क्या होता है, इसके, लक्षण, इलाज और बचाव –

गुहेरी क्या होता है – what is stye in hindi

  • गुहेरी एक लाल रंग की गांठ होती है, जो दाने की तरह होती है और पलक के बाहरी किनारे पर बनती है.
  • आपकी पलकों में खासकर पलकों के आसपास बहुत सारे छोटे ऑयल ग्लैंड होते हैं.
  • डैड स्किन, गंदगी या तेल का निर्माण इन छोटे छिद्रों को रोक या अवरुद्ध कर सकता है. 
  • जब एक ग्रंथि अवरुद्ध हो जाती है, तो बैक्टीरिया अंदर विकसित हो सकता है और गुहेरी विकसित करने का कारण बन सकता है. (जानें – आंखों में तेज़ दर्द के बारे में)

गुहेरी के लक्षण क्या होते है – what are the symptoms of stye in hindi

  • खुजली
  • पलक के आसपास क्रस्ट बनना
  • दर्द और सूजन
  • टियर प्रोडक्शन ज्यादा होना

गुहेरी का इलाज – eye stye home remedies in hindi

गर्म सिकाई

  • गर्म सिकाई एक गुहेरी के इलाज के लिए सबसे प्रभावी तरीका है. 
  • गर्माहट से मवाद को सतह पर लाने में मदद मिलती है. 
  • यह मवाद और तेल को भंग कर देती है ताकि गुहेरी स्वाभाविक रूप से निकल सके.
  • गर्म पानी से एक साफ धुले हुए कपड़े को गीला करें. सुनिश्चित करें कि पानी बहुत गर्म न हो.
  • कपड़े को सिर्फ गीला करें जिससे यह नम रहें और टपके नहीं. 
  • इसे लगभग 5 से 10 मिनट के लिए अपनी आंख के ऊपर रखें. 
  • गुहेरी को हाथ से दबाने (निचोड़) या पंचर करने की कोशिश न करें.
  • इसे दिने में 3 से 4 बार किया जा सकता है.

पलक को माइल्ड साबून और पानी से धोएं

  • आंखों को साफ करते समय कुछ भी सिथेटिक या कठोर केमिकल का उपयोग न करें.
  • इसके स्थान पर आंखों को एलर्जी न करने वाले सामग्री को देखें.
  • चेहरे के दूसरे हिस्सों के मुकाबले आंखों के आसपास की स्किन पतली होती है.
  • इसलिए किसी भी प्रोडक्ट को आंखों के आसपास लगाने से पहले सोचें.
  • शिशुओं वाला टियर फ्री शैम्पू का इस्तेमाल किया जा सकता है.

गर्म टी बैग

  • गर्म सिकाई के लिए कपड़ों के स्थान पर गर्म टी बैग का उपयोग किया जा सकता है.
  • इसके लिए ब्लैक टी काफी मददगार साबित होती है.
  • काली चाय न केवल सूजन को कम करने बल्कि इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते है.
  • किसी कप में गर्म पानी करें और उसमें टी बैग का डाल दें.
  • टी बैग को उसी तरह डालना है जैसे चाय बनाने के लिए दूध में डालते है.
  • इसे 1 मिनट तक पानी में रहने दें.
  • इसके बाद टी बैग को आंख के ऊपर रखे जानें लायक तापमान तक ठंडा होने दें.
  • आंख के ऊपर इसे 5 से 10 मिनट तक रखें.
  • दोनों आंखों के लिए अलग टी बैग का उपयोग करें.

मेकअप और कॉन्टैक्ट लेंस न पहनें

  • गुहेरी होने पर मेकअप न लगाएं.
  • ऐसा करने से आंख में जलन हो सकती है.
  • साथ ही इसे ठीक होने में समय लग सकता है.
  • आपके मेकअप टूल में बैक्टीरिया जा सकता है जो दूसरी आंख में फैल सकता है.
  • कॉन्टैक्ट लेंस के मामलों में गुहेरी ठीक होने तक इन्हें न पहनें.
  • ऐसा करने से इंफेक्शन लौटकर आ सकता है.
  • फिर से इंफेक्शन से बचने के लिए कॉन्टैक्ट लेंस बदल लें.

मसाज करें

  • आप मवाद निकासी को बढ़ावा देने के लिए प्रभावित क्षेत्र की मालिश कर सकते हैं.
  • साफ हाथों से क्षेत्र की धीरे से मालिश करें. 
  • जब एक बार गुहेरी क्षेत्र साफ रखें और अपनी आँखों को छूने से बचें. अगर दर्द होता है तो रुकें.

स्वच्छता बनाए रखें

  • हमेशा सुनिश्चित करें कि आपके हाथ ठीक से साफ और स्वच्छ होते हैं, क्योंकि हाथ के माध्यम से आंखों में अधिकतम मात्रा में रोगाणुओं और बैक्टीरिया फैल सकते हैं. 
  • हाथ आमतौर पर शरीर का सबसे अधिक काम किया जाना वाला अंग है, जिसे हम विभिन्न प्रकार के कार्यों के लिए उपयोग करते हैं. 
  • जिनमें विभिन्न सतहों के साथ छूने, पकड़ने, खींचने, धक्का देने और चलने में शामिल होते हैं. 
  • इससे हाथों पर रोगाणुओं और बैक्टीरिया का निर्माण होता है जो आसानी से चेहरे या आंखों में स्थानांतरित हो जाते हैं, क्योंकि इन क्षेत्रों को लगातार छूता है. 
  • इसलिए, यह सुनिश्चित करने के लिए कि हाथ गंदा नहीं होता है, अपने हाथों को हमेशा साफ रखना महत्वपूर्ण है.

डॉक्टर से मिलें

  • बैक्टीरियल इंफेक्शन के मामलों में डॉक्टर आपको एंटीबायोटिक क्रीम की सलाह दे सकते है.
  • इंफ्लामेशन के मामलों में डॉक्टर आपको स्टेरॉयड शॉट दे सकते है.
  • गुहेरी के कारण दृष्टि समस्या होने पर डॉक्टर इसे सूखा सकते है.

क्या गुहेरी को दबाकर खत्म किया जा सकता है

  • इसे दबाना या छूना नहीं चाहिए.
  • दबाने से पस निकलकर फैलने से इंफेक्शन फैल सकता है.
  • आंख के अंदर गुहेरी होने पर डॉक्टर से मिलें.

गुहेरी से बचाव कैसे होता है – how do you prevent styes in hindi

  • गुहेरी होने पर आपका एक जोखिम और बढ़ जाता है. 
  • मवाद में बड़ी संख्या में बैक्टीरिया आपकी आंख में या आपकी दूसरी आंख में हो सकती हैं.
  • इससे बचाव के लिए हाथों को साफ रखें और सीधे आंखों को न छुए.
  • पलको को गर्म पानी से साफ करते रहें.
  • रात को सोने से पहले आंखों पर मेकअप न करें.
  • गुहेरी से ग्रसित व्यक्ति के साथ टावल या कपड़ा शेयर न करें.

गुहेरी कब तक रहती है

  • इसकी सूजन करीब 3 दिनों तक रहती है और अपने आप मवाद निकलने के बाद सूख जाती है.
  • इसे भरने में कम से कम 7 से 10 दिन का समय लगता है.
  • इसके बहुत ही रेयर मामलों में इलाज का जरूरत पड़ती है.
  • अधिकतर मामलों में यह घर पर ही सही हो जाती है.

डॉक्टर से कब मिलें

निम्न कंडीशन होने पर डॉक्टर से मिलें –

इसके अलावा बार बार गुहेरी होने पर डॉक्टर से मिलकर सलाह ली जानी चाहिए. जिससे कंडीशन की पहचान कर उचित इलाज दिया जा सकें.