Select Page

नपुंसकता के कारण और घरेलू उपचार – Impotency meaning and Treatment in Hindi

नपुंसकता के कारण और घरेलू उपचार – Impotency meaning and Treatment in Hindi

आज के परिपेक्ष को देखे तो बदलती लाइफस्टाइल के कारण पूरे विश्व के पुरुषों में स्तंभन दोष जिसे अग्रेजी में इरेक्टाइल डिसफंक्शन आदि कहते है, तेज़ी से बढ़ता हुआ रोग बन गया हैं. जिसके कारण हैं मानसिक तनाव, काम का ज्यादा बोझ और खराब जीवनशैली आदि. जिसके चलते पुरुषों में यह तकलीफ बढ़ती जा रही है.

वहीं बात करें इसे ठीक किए जाने की तो नपुंसकता के घरेलू उपचार कर और अच्छी जीवनशैली के साथ अच्छे खान-पान से अधिकतर मामलों में स्तंभन दोष को ठीक कर खुशहाल जीवन पाया जा सकता हैं. ऐसा होने का कारण होता है खराब जीवनशैली का होना और असमय खान-पान आदि, जिसके चलते पूरा स्वास्थ्य प्रभावित हो जाता हैं.

नपुंसकता के कारण – napunsakta ke karan in hindi

मानसिक तनाव

  • मानसिक तनाव या चिंता करना आज के टाइम में सबसे बड़ी समस्या बनकर सभी के सामने खड़ी हैं.
  • जिसकी वजह से लोगों में मानसिक तनाव बढ़ता जा रहा हैं.
  • जिसके चलते पुरूषों में स्पर्म की कमी होने लगती है और साथ ही उत्तेजना की भी कमी देखे जाने लगी हैं.

कोई दुर्घटना

  • कई मामलों में देखा गया है कि किसी न किसी अप्रिय घटना के चलते भी लोगों में नपुंसकता की समस्या पैदा हो जाती हैं.

कोई बीमारी

  • बहुत बार देखा जाता है कि लंबे समय तक बीमार रहने के चलते लोगों का इम्युन सिस्टम कमज़ोर हो जाता है.
  • जिसकी वजह से उनमें वह जोश नही रहता और जो होना चाहिए.

हस्तमैथुन करना

  • यह करना हमारी सेहत के लिए अच्छा नही होता हैं.
  • ज्यादा हस्तमैथुन करने से भी स्तंभन दोष की समस्या पुरूषों में हो जाती हैं.

हार्मोंन की गड़बड़ी होना

  • खराब जीवनशैली के चलते ही लोगों को बहुत सारी परेशानियाँ वहोने लगती है जिसमें से एक है हार्मोंन में गड़बड़ी होना, जो नपुंसकता के मुख्य कारणों में से एक हैं.

नपुंसकता के घरेलू उपचार – napunsakta ka ayurvedic ilaj in hindi

प्याज़ का उपयोग

  • नामर्दी को दूर करने में प्याज़ बहुत ही लाभदायक घरेलू उपचार है क्योंकि इससे कामेन्द्रिय को शक्ति मिलती हैं.
  • सबसे पहले 1 चम्मच प्याज़ का रस और 1 चम्मच शहद मिला लें.
  • इसे रोज़ाना दिन में कम से कम एक बार एक महीने तक पिएं.
  • इस नपुंसकता के घरेलू उपचार को करने से इन्द्रिय को ताकत मिलती है और नामर्दी दूर होती हैं.

दूध और शहद

  • शहद और दूध नपुंसकता की समस्या को दूर करने में बहुत फायदेमंद होते हैं.
  • सबसे पहले एक कप दूध लें और 1 चम्मच शहद अच्छी तरह मिला लें.
  • रोज़ाना इसे सुबह कुछ महीने तक पिएं.
  • ऐसा करने से वीर्य बढ़ने के साथ-साथ इन्द्रिय को बल भी मिलता है.
  • यह नपुंसकता का अच्छा घरेलू उपचार जिसे कोई भी घर में भी प्रयोग कर सकता हैं.

केसर और अखरोट

  • अखरोट और केसर का दूध नपुंसकता की समस्या में बहुत लाभ देता हैं.
  • लेकिन कोशिश करें कि इस प्रयोग को सिर्फ सर्दी में ही किया जाए.
  • सबसे पहले 1 ग्लास दूध में 2 अखरोट की गिरी डालकर उसे उबाल लें.
  • इसके बाद इसमें 1 चम्मच शक्कर मिलाएं.
  • अब 1 चुटकी केसर को इसमें मिला लें.
  • इसे सर्दी के मौसम में रोज़ाना रात को करीब डेढ़ महीने तक पीने से समस्या दूर हो जाती हैं.
  • साथ ही इस नपुंसकता के घरेलू उपचार से वीर्य भी बढ़ता है