Health

क्या होती है फेफड़ो के घरेलू उपचार में जरूरी बाते – Lungs Care Tips in Hindi

lungs-care-tips-in-hindi

फेफड़े हमारे शरीर के मुख्य अंगों में से एक होते हैं, इनकी संरचना हमारी छाती में स्पंज की तरह शंकु के आकार की जोड़ी होती हैं जो असंख्य वायुकोषों में बंटी हुई होती हैं. जो हमारी सांस लेने की प्रकिया का अहम हिस्सा होते है. यह हमारे जीवन में अहम किरदार निभाते हैं. लेकिन दूषित वातावरण के साथ-साथ दूषित खाना भी हमारे फेफड़ों का दुश्मन बना हुआ हैं. जब भी हमारे फेफड़ों को किसी प्रकार का रोग हो जाता है, तो उसकी हमें भारी कीमत चुकानी पडती हैं. लंग्स से जुड़ी जानकारी में आज हम आपको बताएंगे फेफड़ो के लिए अच्छे घरेलू उपचार, लेकिन उससे पहले लंग्स का काम और इससे जुड़े कुछ रोग जो इस प्रकार हैं.

फेफड़ों का काम

फेफड़ों का काम शरीर में हमारे रक्त का शुद्धिकरण करना होता हैं. ब्लड में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम भी फेफड़े करते हैं. सांस और रक्त के बीच गैसों का आदान-प्रदान करना और रक्त से कार्बनडाई ऑक्साइड निकालना फेफड़ो का काम होता हैं.

फेफड़ों के रोग
फेफड़ों में सूजन आना
दमा
फेफड़ों में पानी भरना
लंग्स कैंसर
ब्रोंकाइटिस
टीबी का रोग आदि

यह सारे लंग्स से संबंधी रोग होते हैं. जिसमें सबसे ज्यादा खतरनाक रोग है लंग्स कैंसर, इसमें सांस की नली जाम हो जाती है जिसके चलकते मरीज़ सांस ही नहीं ले पाते हैं. ऐसे में रोगी को अलग से ऑक्सीजन नाक के द्वारा दी जाती है, लेकिन यह उपाय हमेशा के लिए नहीं हैं.

लंग्स कैंसर होने की वजह धूम्रपान, नशे का अत्यधिक सेवन या टीबी का इलाज सही से नहीं होना या इलाज को आधे में छोड़ देना, फेफड़ो के कैंसर की संभावना बढ़ा देता हैं. स रोग के होने पर इलाज में कीमोथेरेपी या फिर सर्जरी होती है. इसके बाद मरीज अपने खान-पान में बदलाव लाए और नशे की आदत को छोड़ दे, तो काफी हद तक मरीज एक बेहतर जिंदगी जी सकता हैं.

फेफड़ो के कैंसर का घरेलू इलाज

किसी भी रोग में खान-पान अहम भूमिका निभाता हैं. फेफड़ो के कैंसर के रोगी के लिए सेहतमंद भोजन कच्ची सब्जी, कच्चे फल, साबुत अनाज, सलाद का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना फायदेमंद होता हैं. ऐसे मरीजों को बादाम नहीं खाने चाहिए. आसपास सफाई रखनी चाहिए और दोपहर में खट्टे फल या साइट्रस फ्रूटस के जूस पीने चाहिए.

फेफड़ो के कैंसर का घरेलू इलाज में मरीजों के लिए जरूरी है विटामिन डी लेना, इससे फेफड़े की मांसपेशियों में मजबूती आती हैं. सूर्य की रोशनी के संपर्क में रहना विटामिन डी लेने का सबसे बड़ा जरिया हैं.

ग्रीन टी में एंटी ऑक्सीडेंट होता है जो फेफड़ो के लिए अच्छा घरेलू उपाय हैं. दिन में दो कप ग्रीन टी लेना और उसमें थोड़ा शहद मिलाने से बहुत लाभ मिलता हैं.

सीवीड एक समुद्री सब्जी है जिसमें घाव को भरने की जबरदस्त क्षमता होती हैं. नेचुरोपैथी में यह काफी कारगर और असरदार फेफड़ो के कैंसर के घरेलू इलाज के तौर पर जानी जाती हैं. इसमें काफी मात्रा में मिनरल्स और ट्रेस एलिमेंट पाए जाते हैं.

अलसी बीज का तेल फेफड़ो के लिए अच्छा घरेलू उपाय है और काफी असरदार भी होता हैं. अलसी बीज के तेल को रोज थोड़ी-थोज़ी मात्रा में सेवन करते रहना चाहिए.

0 Comments
Share

Kartik Bhardwaj

Hi guys! मेरे ब्लॉग डेली ट्रेंड्स में आपका स्वागत है, प्रोफेशनली में एक डिजिटल मार्केटर हूँ और हिंदी में ब्लॉग लिखना मुझे पसंद है. स्पोर्ट, एंटरटेनमेंट, टेक्नोलॉजी, न्यूज़ और पॉलिटिक्स मेरे पसंदीदा टॉपिक्स है जिन मुद्दों पर में लिखता हुँ, आप ऐसे ही मेरे ब्लॉग पड़ते रहें और शेयर करते रहें.

Reply your comment

Your email address will not be published. Required fields are marked*

About Us