आज के समय की बात करें तो सेक्स संबंधी मुंद्दे जिनमें शीघ्रपतन (समयपूर्व स्खलन) होना काफी आम है. 

शीघ्रपतन एक ऐसी समस्या है जिसमें पुरूष साथी को समय से पहले या बहुत जल्दी स्खलन हो जाता है जिस कारण सेक्स के दौरान पार्टनर को संतुष्टि नहीं मिल पाती है.

समयपूर्व स्खलन से ग्रसित पुरूषों को एक मिनट के भीतर ऑर्गेज़म हो जाते है या वह स्खलन को देरी से नहीं कर पाते है.

यह कंडीशन लगभग हर तीसरे पुरूष को प्रभावित करती है जिसके चलते घबराहट और निराशा हो सकती है. जिस कारण कुछ लोग सेक्स करने से बचते है. लेकिन ऐसे उपचार है जो मदद कर सकते है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है शीघ्रपतन के घरेलू उपचार के बार में –

शीघ्रपतन का घरेलू उपचार – premature ejaculation home remedies

डाइटरी बदलाव

  • रिसर्च के अनुसार, जिंक, मैग्नीशियम की मात्रा का सेवन सेक्सुअल हेल्थ समेत शीघ्रपतन की समस्या में अहम भूमिका निभाते है.
  • जिंक और मैग्नीशियम को डाइट में शामिल करने से स्खलन का समय बढ़ाया जा सकता है.
  • इन फ़ूड्स में कद्दू के बीज, पालक, दही, राजमा, बादाम, सोयाबिन, ऑइस्टर, डार्क चॉकलेट, लहसुन, दाल आदि शामिल है.

हस्तमैथुन

  • यौन क्रिया करने से एक या दो घंटे पहले हस्तमैथुन करने से पेनिट्रेशन के दौरान स्खलन में देरी करने में मदद मिल सकती है.
  • इस यौन रिलीज को जल्दी से क्लाइमैक्स करने की आपकी आवश्यकता को कम करना चाहिए.

कुछ दिनों के लिए सेक्स से बचें

  • यह उल्टा लग सकता है, लेकिन सेक्स के बजाय अन्य प्रकार की यौन गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करने से आपके यौन अंग से दबाव हटाने में मदद मिल सकती है.
  • यौन संतुष्टि तक पहुँचने का एकमात्र तरीका पेनिट्रेशन नहीं है. (जानें – ओरल सेक्स के बारे में)
  • इसलिए अन्य तरीकों के बारे में सोचें जो आप और आपके साथी खुशी महसूस कर सकते हैं जिसके कारण आप या तो परेशान या हताश हैं.

स्टॉप स्टार्ट तकनीक

  • इस तकनीक को ऑर्गेज़म कंट्रोल के रूप से जाना जाता है जिसमें प्लेजर को छोड़कर क्लाइमैक्स को देरी से किया जा सकता है.
  • इलसे लिए जब आपको लगे कि आपको स्खलन होने वाला है तभी तुरंत सेक्स करते हुए रूक जाएं.
  • आप स्खलन को जितना कंट्रोल करना चाहते है उतना ही इस प्रक्रिया को रिपीट कर सकते है.

आयुर्वेदिक हर्बल दवाएं

  • आयुर्वेद भारत की पारंपरिक चिकित्सा प्रणाली है.
  • यह डायबिटीज से लेकर सूजन तक हर चीज का इलाज करने के लिए हजारों जड़ी-बूटियों पर निर्भर करता है.
  • कुछ आयुर्वेदिक दवाइयाँ जब कैप्सूल को गुनगुने पानी के साथ प्रतिदिन दो बार लिया जाता है. जैसे कि कौंच बीज़, कामिनी विद्रावन रस और यौवनामृत वटी को शीघ्रपतन का इलाज माना जाता है.
  • एक अध्ययन में देखा गया है कि आयुर्वेदिक दवाएं सेक्स टाइम बढ़ाने में मदद करती है.
  • लेकिन इनके कुछ साइड इफेक्ट हो सकते है जैसे हल्का दर्द, लिबिदो कम होना, पेट दर्द, चक्कर आना हो सकता है.

पॉज स्क्वीज तकनीक

  • यह तकनीक क्लाइमैक्स से पहले कमोत्तेजना को कम करके शीघ्रपतन का इलाज करने में मदद करती है.
  • जब आपको लगता है कि आप स्खलन के लिए तैयार हैं, तो रुकें और अपने साथी को पेनिस के अंत को स्क्वीज करने को बोलें, जहां सिरा शाफ्ट में शामिल होता है.
  • उन्हें स्क्वीज को कुछ सेकेंड के लिए होल्ड करने को बोले जबतक आप क्लाइमैक्स नहीं चाहते है.
  • जरूरत के अनुसार इस प्रक्रिया को दोहराया जा सकता है.
  • जिसके परिणामस्वरूप, बिना किसी मदद के आप स्खलन को देरी से कर सकते है.

टॉपिकल क्रीम

  • ओटीसी एनेस्थेटिक क्रीम में कई सुन्न करने वाले एजेंट होते है जो समयपूर्व स्खलन का इलाज करने में मदद करती है.
  • यह सेंशेसन को कम करके क्लाइमैक्स को देरी से कर देता है.
  • इसके लिए सेक्स करने से कम से कम 10 से 15 मिनट पहले क्रीम को पेनिस पर लगा लें, जिससे बेहतर परिणाम मिल सकें.
  • इन क्रीम के साइड इफेक्ट में हल्का दर्द, लिबिदो की कमी, हल्की जलन महसूस करना, अस्थाई रूप से संवेदनशीलता खोना शामिल है.

पेल्विक फ्लोर एक्सरसाइज

  • आपके पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों को मजबूत करने से इस बात पर बड़ा प्रभाव पड़ सकता है कि आपको क्लाइमैक्स पर जाने में कितना समय लगता है.
  • रिसर्च के अनुसार, जीवनभर से शीघ्रपतन की समस्या को झेल रहे लोगों द्वारा पेल्विक फ्लोर एक्सरसाइज करने से स्खलन को कंट्रोल करने में मदद मिलती है.
  • जिससे सेक्स टाइम बढ़ जाता है.

इन्हें करने के लिए –

  • पेशाब करते समय मध्य-धारा को रोककर या गैस पास करने से रोकने वाली मांसपेशियों को कसकर सही मांसपेशियों का पता लगाएं.
  • लेटते समय, अपनी पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों को 3 सेकंड के लिए अनुबंधित करें और फिर 3 सेकंड के लिए आराम करें.
  • इसे कम से कम लगातार 10 बार करें और हफ्ते में 3 बार रिपीट करें.
  • धीरे-धीरे सेकंड की संख्या बढ़ाएं क्योंकि आपकी मांसपेशियां मजबूत हो जाती हैं.
  • नए पोज़िशन आज़माएं, जैसे खड़े होना, चलना या बैठना.
  • साँस लेना न भूलें और केवल अपने पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों पर ध्यान केंद्रित करना याद रखें.
  • अपने एब्स, जांघ या नितंबू मांसपेशियों को टाइट न करें. (जानें – कीगल एक्सरसाइज के बारे में)

जिंक सप्लीमेंट

  • जिंक न केवल हेल्दी इम्यूनिटी और सेल ग्रोथ का समर्थन करता है.
  • आवश्यक मिनरल टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन करने के साथ-साथ आपकी कामेच्छा और एनर्जी को बढ़ाने में भी मदद करता है.
  • रिसर्च के अनुसार, जिंक की कमी और पुरूषों में सेक्सुअल डिस्फंक्शन आपस में लिंक होते है.
  • इसके लिए रोजाना जरूरी 11 मिलीग्राम जिंक की मात्रा लेनी चाहिए, इससे स्खलन का समय बढ़ जाता है.
  • जिंक के सेवन को टेस्टोस्टेरोन लेवल बढ़ाने में मदद के लिए जाना जाता है.
  • लेकिन ज्यादा जिंक लेने से मतली, डायरिया, उल्टी, किडनी या पेट को नुकसान, मुंह का स्वाद कड़वा होना हो सकता है.

स्खलन कंट्रोल करने वाले कंडोम

  • सामान्य तौर पर कंडोम, संवेदनशीलता को कम कर सकता है और आपको शीघ्र स्खलन से बचा सकता है.
  • लेकिन ओवर-द-काउंटर पर क्लाइमैक्स कंट्रोल कंडोम भी उपलब्ध हैं जो या तो अधिक लेटेक्स सामग्री से बने होते हैं या इसमें एक सुन्न करने वाला एजेंट होता है जो क्लाइमैक्स में देरी का काम करता है.

अंत में

आज के समय में समयपूर्व स्खलन या कहे शीघ्रपतन एक कॉमन प्रकार की सेक्स समस्या है. इन घरेलू उपचारों और प्राकृतिक उपचारों में से कोई भी आपके लक्षणों को प्रबंधित करने में आपकी मदद कर सकता है. 

लेकिन अगर समय से पहले स्खलन जारी रहता है, तो आपको किसी भी अंतर्निहित कारणों का पता लगाने और अन्य उपचार विकल्पों का पता लगाने के लिए डॉक्टर से मिलना चाहिए.

References –

 

Share: