Select Page

सी-सेक्शन के बाद सेक्स – sex after c section

सी-सेक्शन के बाद सेक्स – sex after c section

इस लेख में आप जानेंगे सी-सेक्शन के बाद सेक्स कब करें, रिकवरी, सहजता, कीगल और डॉक्टर से कब मिलें –

सी-सेक्शन के बाद सेक्स – sex after c section

  • सी-सेक्शन (सिजेरियन डिलीवरी) होने के बाद रिकवरी करते समय सेक्स करना आपके दिमाग में आने वाली आखिरी चीज़ हो सकती है. (जानें – सी-सेक्शन डिलीवरी के बारे में)
  • फिर भी आप दोबारा सेक्स कब कर पाएंगी और कैसा महसूस करेंगी इसके बारे में सोच सकती है.
  • कुछ लोगों का मानना है कि सिजेरियन डिलीवरी का मतलब फिर से सेक्स करने में कम परेशानी होना है.
  • ऐसा इसलिए माना जाता है क्योंकि सिजेरियन के दौरान योनि एरिया को इतनी ज्यादा क्षति नहीं होती है. लेकिन सभी मामलों में ऐसा नहीं होता है.
  • सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिलाओं द्वारा सेक्स में असहजता होना आम है.
  • ऐसा खासकर डिलीवरी होने के बाद शुरूआती दिनों में होता है.
  • अध्ययनों के अनुसार, योनि और सी-सेक्शन द्वारा जन्म देने वाली महिलाओं ने प्रसवोत्तर के तीन महीने बाद तक सेक्स करने में कठिनाई महसूस की.

सी-सेक्शन के बाद आप कब सेक्स कर सकती है?

  • सिजेरियन डिलीवरी के बाद यौन गतिविधि में वापस आने की कोई एक बार की बात नहीं है. 
  • लेकिन सेक्स शुरू करने से पहले कई महिलाएं चार से छह सप्ताह के बीच इंतजार करती है.
  • यद्यपि आप सिजेरियन सेक्शन के साथ थोड़ी कम ब्लीडिंग का अनुभव कर सकती हैं.
  • फिर भी आपकी गर्भाशय ग्रीवा को पूरी तरह से बंद होने में लगभग छह सप्ताह लग सकते है.
  • कुछ महिलाएं अन्य लोगों की तुलना में जल्द ही सेक्स को फिर से शुरू करने के लिए तैयार महसूस कर सकती हैं. (जानें – सेक्स थेरेपी के बारे में)
  • लेकिन आपको केवल एक बार फिर से जब आप सहज महसूस करें, तो अपने प्रसूति विशेषज्ञ द्वारा ओके दिया जाना चाहिए.

सी-सेक्शन के बाद रिकवरी

  • अपनी सिजेरियन डिलीवरी के बाद, आप ठीक होने के लिए दो से चार दिन तक अस्पताल में रहेंगे.
  • धीरे-धीरे दर्द निवारक दवाओं और आपके मूत्र कैथेटर (पेशाब की थैली) जैसे चिकित्सा उपकरणों को बंद कर दिया जाएगा.
  • हालाँकि, आपने अपने बच्चे को योनि से प्रसव नहीं कराया है, फिर भी आपको योनि से ब्लीडिंग होती है क्योंकि फिर से आपके गर्भाशय का आकार सामान्य होता है.
  • योनि द्वारा प्रसव कराने वाली महिलाओं की तुलना में सी-सेक्शन वाली महिलाओं को कम ब्लीडिंग होती है.
  • ऐसा इसलिए क्योंकि सर्जरी के दौरान ब्लड को साफ कर दिया जाता है.
  • लेकिन चार से छह हफ्तों तक आपको ब्लीडिंग हो सकती है.
  • महिलाओं के यूटेरस को सामान्य साइज में लौटने के लिए करीब छह हफ्तों का समय लग सकता है.
  • चाहे आपका प्रसव किसी भी तरह से हो, लेकिन महीला शरीर को ठीक होने में बराबर समय लगता है.
  • सुरक्षित रूप से सेक्स शुरू करने के लिए गर्भाशय ग्रीवा का बंद होना जरूर होता है.
  • सी-सेक्शन के बाद कुछ हफ्तों तक आपको सेक्स करने समेत योनि में टैम्पन आदि का उपयोग करने से बचना चाहिए.
  • डिलीलरी के छह हफ्ते बाद डॉक्टर द्वारा ओके किए जाने के बाद आप सेक्स करना फिर से शुरू कर सकते है.

सहज हो जाना

  • जन्म से शारीरिक रिकवरी योनि और सिजेरियन प्रसव दोनों के लिए समान है.
  • लेकिन सर्जरी के माध्यम से जाने वाली माताओं के लिए निचले पेट का एरिया में रिकवरी प्रक्रिया बहुत भिन्न होने वाली है.
  • चीरे वाले स्थान से टांकों को एक हफ्ते में काट दिया जाता है.
  • इसके बाद चीरे वाले स्थान को ठीक होने में छह हफ्तों का समय लगता है.
  • लेकिन महिलाओं को टांकों के स्थान पर असहजता होना आम है.
  • कुछ महिलाओं को सुन्न होना या टिंगलिंग आदि का अनुभव कुछ हफ्तों या महीनों बाद तक किया जा सकता है. (जानें – घाव भरने की प्रक्रिया के बारे में)
  • ऐसा होना आम है बशर्ते दर्द बढ़े नहीं और दूसरे लक्षण जैसे बुखार आदि न हो.
  • आपके चीरा स्थल के आस-पास का क्षेत्र असहज हो सकता है.
  • इसलिए उन सेक्स पोजीशन को आज़माने में मददगार होगा जो आपके पेट पर कोई दबाव नहीं डालती हैं.
  • पहली बार जब आप सेक्स करती हैं, तो आप डर सकती हैं कि कैसा महसूस होगा.
  • इसके अलावा सेक्स सिर्फ शारीरिक नहीं होता है, लेकिन सेक्स को लेकर किसी भी प्रकार की मानसिक परेशानी या घबराहट आदि होना आपके सेक्स अनुभव को प्रभावित कर सकती है.
  • अपना समय लें, पार्टनर से बात करें, फोरप्ले का आनंद लें, मसाज, रिलैक्स और शुरू करने के लिए लूब्रिकेशन का उपयोग करें.
  • कुछ महिलाओं को सी-सेक्शन के बाद सेक्सुअल डिस्फंक्शन का अनुभव हो सकता है.
  • सेक्स के दौरान दर्द, असहजता आदि होने पर अपने डॉक्टर से बात करें.

कीगल एक्सरसाइज कैसे करें

  • आपको लगता है कि आप कीगल एक्सरसाइज छोड़ सकते हैं यदि आपको सिजेरियन डिलीवरी हुई थी. लेकिन आप गलत हो सकती है.
  • कीगल सिर्फ योनि के लिए नहीं होती है. इससे पेल्विक फ्लोर की एक्सरसाइज होती है और मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद मिलती है. (जानें – कीगल एक्सरसाइज के बारे में)
  • प्रेगनेंसी के कारण महिलाओं में पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों पर असर पड़ता है.

डॉक्टर से कब मिलें

  • यदि आपको सिजेरियन डिलीवरी के बाद कोई बढ़ा हुआ दर्द, डिस्चार्ज या रक्तस्राव हो तो अपने डॉक्टर से बात करें.
  • समय के साथ रोगी को बेहतर महसूस होना शुरू हो जाता है.
  • अगर कोई चीज़ ज्यादा दर्द करना शुरू कर दें तो यह कुछ गलत होने का संकेत है.
  • प्रसवोत्तर के बाद पहली बार सेक्स करना काफी असहज हो सकता है.
  • यह असहजता स्तनपान, मासिक धर्म चक्र या बर्थ कंट्रोल आदि लेने पर ज्यादा हो सकता है.
  • ऐसा इसलिए होता है क्योंकि योनि से नैचुरल सिक्रेशन की मात्रा कम होती है.
  • आप ज्यादा फोरप्ले, लूब्रिकेशन और पूरा समय ले सकती है.
  • टांकों वाले स्थान पर ध्यान रखा जाना चाहिए जिससे रिकवरी में परेशानी न हो.
  • चीरे वाले स्थान के खुल जाने, दर्द होना या लाल हो जाने के साथ सूजन होना आदि इंफेक्शन का संकेत हो सकता है.

अंत में

जब सिजेरियन डिलीवरी के बाद सेक्स का आनंद लेने की बात आती है, तो अपना समय लेना और अपने शरीर पर ध्यान देना याद रखें.

सामान्य होने में कोई जल्दीबाज़ी न करें, हो सकता है कि आपको सिर्फ एडजस्ट होने में अधिक समय लग सकता है.

हर महीला और कप्पल अलग होते है तो जरूरी है कि एक दूसरे से बात करें. किसी समस्या का सामना करने पर डॉक्टर से बात जरूर करें. (जानें – सेक्स के फायदे के बारे में)

इसके अलावा किसी अन्य समस्या या सवाल के लिए डॉक्टर से मिलकर सलाह लें.

References –

 

Share:

About The Author

Ankita Singh

Professional healthcare writer, House wife, Freelancer, Hate so called feminist & Travel bud. Queries, Questions, Suggestions regarding my work are most welcome.