Select Page

आंखों में तेज़ दर्द – sharp pain in eye in hindi

आंखों में तेज़ दर्द – sharp pain in eye in hindi

आंख में अचानक से तेज़ दर्द, आंख के आसपास ढीड़ जमा होने के कारण हो सकता है. आमतौर पर इसे ऐंठन, चुभन या आंख के अंदर जलने के रूप में महसूस किया जाता है.

तेज़ दर्द का कारण गंभीर समस्याएं जैसे ग्लूकोमा या यूवाइटिस हो सकते है. आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है आंखो में तेज़ दर्द के क्या होते है कारण और उनके उपचार

आंखों में तेज़ दर्द के कारण क्या हो सकते है – what are the causes of sharp pain in eye in hindi

आंखों में दर्द का कारण कई कंडीशन या उत्तेजक पदार्थ हो सकते है. अगर आपको आंखों में दर्द है और वह साफ करने या किसी आंखों के सॉल्यूशन को डालने के बाद भी रहता है तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए.

आंखों में ढीड़

  • आंखों के आसपास कोने पर जमा होने वाली गंदगी, अलग अलग जगह पर इसे अनेकों नाम से जाना जाता है.
  • आंखों में दर्द का इसे मुख्य कारण माना जाता है, यह धूल, गंदगी या आंख में किसी पदार्थ के जाने पर जलन और दर्द कर सकती है.
  • अगर आपको लगता है कि आपकी आंख में कुछ है तो उसे पानी या आंखों की दवा से साफ कर लें.
  • दर्द के बने रहने पर डॉक्टर से बात करनी चाहिए.
  • आंखों को खुद से खुजाने पर पुतली को नुकसान पहुँच सकता है.
  • वहीं आंखों में किसी पदार्थ के रहने और दर्द होते रहने पर उसे हटाएं नहीं और मेडिकल सहायता लें.

ग्लूकोमा

  • ऑप्टिक नर्व को प्रभावित करने वाला इस रोग को मोतियाबिंद या ग्लूकोमा कहा जाता है.
  • इसमें एक्यूट एंगल ग्लूकोमा को मेडिकल इमरजेंसी के रूप में जाना जाता है.
  • इसके कारण कुछ दिनों में अंधापन हो सकता है.
  • गंभीर आंखों में दर्द, धुंधली दृष्टि, उल्टी और दृष्टि समस्याएं आदि अनुभव होने पर तुरंत डॉक्टर से बात कर सलाह लें.
  • ग्लूकोमा संबंधी समस्या से बाचव का तरीका शुरूआत में इसका पता लगना है.
  • 35 से अधिक आयु होने पर समय समय पर डॉक्टर से जांच करवानी चाहिए. 

यूवाइटिस

  • यूवाइटिस आंख के हिस्से को प्रभावित करने वाली एक इंफ्लामेटरी समस्या है जिसे यूविया कहा जाता है.
  • यह यूविया आंखों की मीडल लेयर होती है जिसमें आईरिस, चोरॉइड और सिलियरी बॉडी होती है.
  • यूवाइटिस का मुख्य कारण इंफेक्शन या ट्यूमर, आंखों को नुकसान, ऑटोइम्यून समस्या, आंखों में टॉक्सिन के कारण हो सकता है.
  • इसका निदान करने के लिए डॉक्टर द्वारा आंखों का जांच की जानी चाहिए. जिसके बाद उचित उपचार दिया जाता है.
  • उपचार के लिए एंटीबायोटिक्स, एंटीवायरल, इंजेक्शन या कॉर्टिकोस्टेरॉइड, आंखों के लिए एंटी इंफ्लामेटरी ड्रॉप्स दी जा सकती है.    

आधे सिर में दर्द बने रहने

  • सिर में दर्द के बने रहने के कारण आंखों का कार्यक्षमता प्रभावित हो सकती है.
  • इस तरह के आधे सिर में दर्द होने पर यह 15 मिनट से 3 घंटों तक बना रहता है.
  • इसके लक्षणों में सूजन या तेज़ दर्द, आंखों में आंसू आते रहना, आंख लाल होना, पलके भारी होना होता है.
  • इसके उपचार में सिरदर्द का इलाज किया जाता है. 
  • आधे सिरदर्द का निदान करने के लिए जरूरी है कि इसको उत्तेजित करने वाले पैटर्न का पता लगाया जाए. 

कॉन्टेक्ट लेंस

  • अगर आप कॉन्टेक्ट लेंस पहनते है तो इनमें समस्या के कारण आपको आंखों में दर्द हो सकता है.
  • वहीं दर्द के साथ धुंधली दृष्टि होने पर हो सकता है कि आंख में लेंस फोल्ड या हिल गया हो.
  • अगर आप कॉन्टेक्ट लेंस को शीशे में देख पा रहे हैं तो अपने हाथों को साफ करके उसे हटाने की कोशिश करें.
  • उसको न देख पाने की स्थिति में आंखों को सॉल्यूशन या पानी से साफ करें.
  • लेंस को सही स्थान पर लगाने की कोशिश करें.

अंत में

आंखों में दर्द का इलाज संभव है. आंखों में चोट के साथ अगर आपको सिर दुखता है तो हो सकता है कि आप माइग्रेन आदि का अनुभव कर रहे हों. वहीं आंखों को धो लेने के बाद भी दर्द के बने रहने पर हो सकता है कि आप कुछ गंभीर रोग का सामना कर रहे हों. अगर कुछ घंटों में यह लक्षण सही नहीं होते है तो तुरंत मेडिकल सहायता लें.