Select Page

6 पैक एब्स के लिए डाइट – diet for abs

6 पैक एब्स के लिए डाइट – diet for abs

अगर आप 6 पैक एब्स बनाने की सोच रहें है तो एक्सरसाइज के अलावा अपनी डाइट का ख्याल रखना बहुत जरूरी है.

कुछ फ़ूड्स आपके मेटाबॉलिज़्म को बूस्ट कर सकते है, फैट बर्न करने को तेज़ कर सकते है और दो भोजन के बीच आपके पेट को भरा हुआ महसूस करवा सकते है.

जबकि अन्य फैक्टर आपको अतिरिक्त कैलोरी और शुगर दे सकते है जिसमें वजन बढ़ने और अधिक बॉडी फैट का रिस्क रहता है.

आज इस लेख में आप जानेंगे एब्स बनाने के लिए बेस्ट डाइट, किन फ़ूड्स को खाएं और किन से बचें –

6 पैक एब्स के लिए डाइट – diet for abs

डिफाइन एब्स के लिए क्या खाएं

  • अपनी डाइट में काफी सारे पोषक तत्वों, पूर्ण अनाज, फल, सब्जियों, हेल्दी फैट और हाई प्रोटीन वस्तुओं को शामिल करना जरूरी है.
  • यह फ़ूड्स न सिर्फ सूक्ष्म पोषण में बल्कि एंटीऑक्सिडेंट में हाई होने के अलावा लो कैलोरी वाले होते है.
  • जिससे यह फैट बर्न करने के साथ साथ वजन घटाने में मददगार होते है.
  • डाइट का यह प्रकार फाइबर, प्रोटीन और हेल्दी फैट में पूर्ण होते है जो पूरे शरीर की संरचना में अहम भूमिका निभाता है.
  • ध्यान रहें कि पूरे शरीर के फैट को कम करने पर ध्यान देना चाहिए न कि सिर्फ किसी एक स्पॉट जैसे बैली फैट.
  • अध्ययनों का मानना है कि किसी विशेष स्थान से फैट हटाना कुछ खास प्रभावी नहीं होता है.
  • विशेषकर ध्यान रखें कि एब्स के लिए सिर्फ डाइट ही अकेला फैक्टर नहीं होता है, आपको नियमित शारीरिक एक्टिविटी करनी होती है जिससे कैलोरी बर्न होने और मांसपेशियों को टोन किया जा सके.

किन फ़ूड्स को खाएं

  • जिम के अलावा सही भोजन चुनने से आप तेज़ी से एब्स बना सकते है जैसे –

दलहन

  • इसमें दाले, मूंगफली, राजमा आदि होते है.
  • यह प्रोटीन, फाइबर, विटामिन बी, आयरन, कॉपर, मैग्नीशियम और जिंक के अच्छे सोर्स होते है.
  • ज्यादा प्रोटीन खाने को शरीर की संरचना और बैली फैट कम करने से लिंक किया जाता है.
  • फाइबर का सेवन अधिक करने से वजन घटना और पेट के आसपास की चर्बी कम करना जुड़ा होता है. 

नट्स और सीड्स

  • यह फाइबर, प्रोटीन और हेल्दी फैट को परफेक्ट संतुलन उपलब्ध कराते है जो एब्स पाने के लिए जरूरी है.
  • पिस्ता, अखरोट, बादाम, ब्राजील नट्स आदि को डाइट में शामिल करने से लाभ मिलता है.
  • जबकि सीड्स में चिया, अलसी, कद्दू आदि को शामिल किया जा सकता है.

चाय

  • ग्रीन टी के काई सारे लाभ होते है जिसमें फैट बर्न करना और वजन घटाना शामिल है.
  • इसके अलावा ब्लैक टी में भी वजन घटाने वाले कंपाउड होते है.

फल और सब्जियां

  • फल और सब्जियां पोषक तत्वों से भरपूर होती है.
  • जिसका अर्थ है कि इनमें कम कैलोरी और हाई एंटीऑक्सिडेंट, फाइबर, विटामिन और मिनरल होते है.
  • यह वजन कम करने के अलावा फैट बर्न करना और एब्स बनाने की डाइट में प्रभावी होते है.

ओमेगा-3 फैटी एसिड

  • हमारे हार्ट, दिमाग के फंक्शन, इंफ्लामेशन और वजन कंट्रोल करने में ओमगा-3 फैटी एसिड अहम रोल निभाते है.
  • रिसर्च के अनुसार हाई प्रोटीन को कम बैली फैट के साथ जोड़ा जाता है जिससे भूख कम लगना और वजन घटाने में मदद मिलती है.

पूर्ण अनाज

  • ओट्स, किनोआ, कूट्टू का आटा आदि को डाइट में शामिल करना एब्स पाने के बेहतर तरीकों में से एक है.
  • हाई फाइबर होने के कारण यह वजन घटाने, पाचन में सहायता और ब्लड शुगर लेवल को कम करते है.
  • पूर्ण अनाज विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सिडेंट के अच्छे सोर्स होते है.
  • कुछ अध्ययनों के अनुसार पूर्ण अनाज खाने से भूख कम लगने और शरीर में एनर्जी के इस्तेमाल को बढ़ाने और शरीर की संरचना को प्रभावित करते है.

किन फ़ूड्स से बचें

  • एब्स बनाने में मदद करने वाले फ़ूड्स के अलावा पेट की चर्बी बढ़ाने वाले निम्न फ़ूड्स से बचा जाना चाहिए जिसमें –

शराब

  • ज्यादा शराब के सेवन से आपकी सेहत के साथ साथ पेट की चर्बी बढ़ती है.
  • कई अध्ययनों में देखा गया है कि इससे कमर के आसपास चर्बी बढ़ जाती है.

मैदा

  • रिफाइंड अनाज जैसे मैदा से बनी चीज़े – ब्रेड, पास्ता आदि को प्रोसेस करके बनाया जाता है.
  • पूर्ण अनाज के विपरित रिफाइंड अनाज में लो फाइबर और कई जरूरी विटमिन, मिनरल कम होते है.

शुगरी ड्रिंक्स

  • इनमें सोडा, स्पोर्ट्स ड्रिंक्स और जूस शामिल है जो बॉडी फैट को बढ़ाकर एब्स बनाना मुश्किल कर देते है.
  • यह ड्रिंक्स कैलोरी में हाई होने के अलावा शुगर में भी हाई होती है.
  • अध्ययनों के अनुसार, मीठे पेय पदार्थ का सेवन करने से वजन बढ़ने के साथ साथ पेट की चर्बी बढ़ने की रिस्क बढ़ जाता है.

चीनी वाले स्नैक्स

  • कुकीज, केक, कैंडी आदि का सेवन सीमित करना चाहिए.
  • इन फ़ूड्स में हाई कैलोरी के साथ अतिरिक्त शुगर होती है.
  • रिसर्च में देखा गया है कि अतिरिक्त शुगर के कारण भूख बढ़ती है जिस कारण वजन बढ़ जाता है.

तले हुए फ़ूड्स

  • हाई कैलोरी होने के अलावा यह हाई ट्रांस फैट वाले होते है.
  • इसके कारण हार्ट रोग का रिस्क बढ़ जाता है.
  • साथ ही वजन बढ़ना और बॉडी फैट बढ़ जाता है.

एब्स की एक्सरसाइज

  • जब बात आती है मांसपेशियां बनाने और एब्स निकालने की तो डाइट की ही तरह एक्सरसाइज भी बहुत जरूरी होती है.
  • कार्डियो या एरोबिक्स एक्सरसाइज में जॉगिंग, साईकिल चलाना, बॉक्सिंग या तैराकी जैसी एक्टिविटी से हार्ट रेट को बढ़ाया जा सकता है.
  • रोजाना के रूटीन में कार्डियों को शामिल करने से कैलोरी बर्न करने और पूरे शरीर का वजन घटाने में मदद मिलती है.
  • इसके अलावा आप स्टैमिना और ताकत बढ़ाने वाली एक्सरसाइज भी कर सकते है.
  • इसके लिए आप वेट लिफ्टिंग, बॉडी वेट एक्सरसाइज जैसे पुश-अप, पुल-अप और लंजेस आदि कर सकते है.
  • कोर मांसपेशियों को टोन करने वाली एक्सरसाइज एब्स पाने में मदद कर सकती है जिसमें क्रंच, प्लैंक, सिट-अप शामिल है.

अंत में

सिक्स पैक एब्स पाने का सबसे बेहतरीन तरीका है अपनी डाइट को बदलना. इसके लिए फल, सब्जियों, पूर्ण अनाज, नट्स, दलहन, फैटी एसिड और चाय शरीर के संरचना को बेहतर करने और फैट बर्न करने में मदद कर सकता है.

जबकि आपको तले हुए भोजन, शुगरी स्नैक्स, रिफाइंड अनाज, मीठे पेय और शराब आदि के सेवन से बचना चाहिए. (जानें – शाकाहारी लोगों के लिए बॉडी बिल्डिंग डाइट प्लान)

अच्छे परिणाम के लिए पोषक तत्वों को शामिल करने, एब्स बनाने वाली डाइट के साथ नियमित एक्सरसाइज और हेल्दी लाइफस्टाइल रखनी चाहिए.

References –

 

Share:

About The Author

Ankita Singh

Professional healthcare writer, House wife, Freelancer, Hate so called feminist & Travel bud. Queries, Questions, Suggestions regarding my work are most welcome.