Select Page

हेल्दी स्किन के लिए फ़ूड्स – food for healthy skin in hindi

हेल्दी स्किन के लिए फ़ूड्स – food for healthy skin in hindi

हमारे स्वास्थ के लिए पोषण जरूरी होता है. जबकि एक अनहेल्दी डाइट के कारण हमारे मेटाबॉलिज्म को नुकसान हो सकता है जिसके कारण वजन बढ़ना, हार्ट और लिवर जैसे अंगों को नुकसान होना आदि हो सकता है.

लेकिन आप जो खाते है उसका प्रभाव आपके अंगों जैसे स्किन पर भी पड़ता है. हेल्दी डाइट का असर हमारे पूरे स्वास्थ के साथ साथ स्किन की एजिंग पर भी पड़ता है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है बेस्ट फ़ूड्स जो आपकी स्किन को हेल्दी रखने में मदद कर सकते है.

हेल्दी स्किन के लिए फ़ूड्स – food for healthy skin in hindi

सूरजमुखी के बीज

  • आमतौर पर नट्स और सीड्स को स्किन बूस्टिंग पोषक तत्वों के रूप में जाना जाता है.
  • इसका सबसे बेहतर उदाहरण सूरजमुखी के बीज है.

शकरकंदी

  • प्लांट में मौजूद तत्वों में से एक बीटा कैरोटीन होता है.
  • यह प्रोविटामिन ए के रूप में काम करता है जिसका अर्थ है कि यह हमारे शरीर में विटामिन ए के रूप में बदल सकता है.
  • बीटा कैरोटीन संतरे और पालक, गाजर, शकरकंदी जैसी सब्जियों में भी पाया जाता है.
  • यह हमारी स्किन के लिए काफी हेल्दी होते है और नैचुरल सनब्लॉक के रूप में कार्य करते है.

ओमेगा-3 फैटी एसिड

  • इसके लिए आप कॉड लिवर ऑयल भी ले सकते है.
  • इसके अलावा साल्मन में इसकी अच्छी मात्रा होती है.
  • जबकि शाकाहारी लोगों को अलसी के बीज में ओमेगा-3 फैटी एसिड की मात्रा मिलती है.
  • त्वचा को पतला रखने, कोमल और मॉइस्चराइज़ रखने के लिए जरूरी होती है.
  • ओमेगा-3 की कमी के कारण ड्राई स्किन की समस्या हो सकती है.
  • यह हमारे शरीर से इंफ्लामेशन के कारण होने वाले मुँहासे और त्वचा के लाल होने को कम करने में मदद करता है.
  • साथ ही ओमेगा-3 की मदद से हमारी त्वचा यूवी रेज़ के लिए कम संवेदनशील हो जाती है.
  • कुछ अध्ययनों के अनुसार फिश ऑयल सप्लीमेंट इंफ्लामेटरी और ऑटोइम्यून रोग जैसे सोरायसिस और ल्यूपस से लड़ने में मदद करता है.
  • फैटी फिश को विटामिन ई का भी अच्छा सोर्स माना जाता है जिसमें स्किन के लिए जरूरी एंटीऑक्सिडेंट होते है.
  • विटामिन ई हमारी स्किन को फ्री रेडिकल्स के कारण होने वाली स्किन की क्षति और इंफ्लामेशन से बचाता है.
  • इस तरह के सीफ़ूड में स्किन के लिए अच्छी गुणवत्ता वाला हाई प्रोटीन होता है.
  • जिंक की कमी के कारण स्किन की समस्या, जैसे घाव भरने में समय लगना आदि हो सकता है.
  • फिश के अंदर जिंक की अच्छी मात्रा होती है जो हमारे स्किन हेल्थ, नए सेल्स का विकास और इंफ्लामेशन को कम करने में मदद करते है.

एवोकाडो

  • इसमें हेल्दी फैट होते है जो हमारे शरीर में कई तरह के फंक्शन करने के लिए जरूरी है.
  • यह फैट हमारी स्किन को मॉइस्चराइज़ और फ्लैक्सिबल रखने में मदद करते है.
  • एवोकाडो में हमारी स्किन को यूवी किरणों के नुकसान से बचाने की क्षमता होती है.
  • यूवी किरणों के कारण हमारी स्किन पर झुर्रियाँ और एजिंग होती है.
  • एवोकाडो को विटामिन ई का अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट हमारी स्किन को नुकसान से बचाते है.
  • विटामिन ई को विटामिन सी के साथ लेने पर काफी लाभ मिलता है.
  • हमारी स्किन के लिए विटामिन सी भी काफी जरूरी होता है.
  • विटामिन सी में मिलने वाले एंटीऑक्सीडेंट से हमारी स्किन को मजबूत बनाने में मदद मिलती है.
  • विटामिन सी की कमी के कारण सूखी, कठोर, स्कैली स्किन हो जाती है जिसके छिलने के मौके बढ़ जाते है.

लाल या पीली शिमला मिर्च

  • इनमें भी बीटा कैरोटीन की अच्छी मात्रा होती है जो हमारे शरीर में विटामिन ए बनाते है.
  • यह विटामिन सी के भी अच्छे सोर्स होते है जो हमारे शरीर में प्रोटीन के जरूरी तत्व बनाते है.
  • इससे स्किन को मजबूत रखने में मदद मिलती है. 

अखरोट

  • यह हमारे स्वास्थ में बहुत सारी समस्याओं में मदद करते है जिसमें से एक स्किन है.
  • इसमें मौजूद जरूरी फैटी एसिड होते है जिनको हमारा शरीर खुद नही बना पाता है.
  • जबकि यह ओमेगा-3 और ओमेगा-6 से बेहतर फैटी एसिड के सोर्स होते है.
  • हाई ओमेगा-6 डाइट के कारण शरीर में इंफ्लामेशन बढ़ाने जिसके कारण सोरायसिस जैसी कंडीशन हो सकती है.
  • वहीं ओमेगा-3 फैटी एसिड शरीर व स्किन की इंफ्लामेशन कम करते है.
  • स्किन के लिए जरूरी तत्वों में से एक जिंक होता है जो घाव भरने के साथ साथ बैक्टीरिया से लड़ने और इंफ्लामेशन कम करने में मदद करता है. 

ब्रोकली

  • इसमें स्किन के लिए जरूरी मिनरल और विटामिन जैसे जिंक, विटामिन ए और विटामिन सी होते है.
  • यह लूटेन से पूर्ण होता है जो स्किन को ऑक्सीडेटिव नुकसान से बचाने में मदद करते है.
  • ब्रोकली में एंटी-कैंसर गुण होते है जो कुछ विशेष प्रकार के स्किन कैंसर से बचाते है.

टमाटर

  • यह विटामिन सी के तत्वों से पूर्ण होते है.
  • टमाटर में मौजूद बीटा कैरोटीन, लूटिन और लाइकोपेन स्किन का यूवी रेज़ से बचाव करती है.
  • साथ ही इससे स्किन पर जल्दी से झुर्रियां नही आती है.
  • इसमें चीज़ या ऑलिव ऑयल के समान तत्व होते है.

ग्रीन टी

  • ग्रीन टी के कई हेल्थ बेनेफिट्स होते है जैसे स्किन को नुकसान और एजिंग से बचाना.
  • इसमें मौजूद तत्व स्किन के स्वास्थ को कई रूप से बेहतर करने में मदद करते है.
  • कई सारे लाभों में से एक स्किन को यूवी किरणों से बचाना भी होता है.
  • ग्रीन टी से स्किन का लचीलापन, पतलापन, मॉइस्चर ठीक हो सकता है.

सोय

  • इसमें आइसोफ्लावंस होते है जो प्लांट में मौजूद कंपाउंड होता है.
  • यह तत्व हमारे शरीर में एस्ट्रोजन को ब्लॉक या मिमक करता है.
  • सोय में मौजूद तत्व हमारे शरीर को कई बेनेफिट्स देते है.
  • मेनोपॉज के बाद वाली महिलाओं में यह स्किन का सूखापन और कॉलेजेन को बढ़ाने में मदद करती है.
  • इससे स्कीन को स्मूथ और मजबूत रखने में मदद मिलती है.
  • साथ ही यह हमारी स्किन को यूवी रेडिएशन से बचाती है जिससे कुछ स्किन कैंसर का रिस्क कम हो जाता है.

डार्क चॉकलेट

  • हमारी स्किन के लिए कोकोआ काफी फायदेमंद होता है.
  • इसमें हाई एंटीऑक्सीडेंट होते है जिससे स्किन हाइड्रेट रहती है.
  • साथ ही ऐसे लोगों की स्किन दूसरों की तुलना में कम स्कैली और सनबर्न के लिए संवेदनशील रहती है.
  • डार्क चॉकलेट के बेनेफिट्स की बात करें तो यह झुर्रियों को कम करने में मदद करती है.

अंत में

आप जो खाते है उसका असर आपकी स्किन पर पड़ता है. ध्यान रहें कि आप अपनी स्किन को हेल्दी रखने के लिए जरूरी पोषक तत्वों की मात्रा लेते हैं.