Select Page

इंटरमिटेंट फास्टिंग कैसे करें – how to do intermittent fasting in hindi

इंटरमिटेंट फास्टिंग कैसे करें – how to do intermittent fasting in hindi

आज के समय की बात करें तो इंटरमिटेंट फास्टिंग एक प्रकार का ट्रेड बन चुका है. इंटरमिटेंट फास्टिंग को वजन घटाने, मेटाबॉलिक हेल्थ बेहतर करने और जीवन की गुणवत्ता को अच्छा करने के रूप में जाना जाता है.

इस तरह के उपयोग में कई भोजन खाने के पैटर्न होते है, जिसमें से काफी सारे प्रभावी होते है. लेकिन आपके लिए कौन सा मेथड बेहतर है यह जानना बहुत जरूरी है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है इंटरमिटेंट फास्टिंग करने के लोकप्रिय तरीके – how to do intermittent fasting in hindi

इंटरमिटेंट फास्टिंग करने के तरीके – ways to do intermittent fasting in hindi

5:2 डाइट

  • इस मेथड में हफ्ते के 5 दिन सामान्य रूप से भोजन करना होता है.
  • जबकि बाकि के बचे 2 दिन सिर्फ 500 से 600 कैलोरी लेनी होती है.
  • इस डाइट को फास्ट डाइट कहा जाता है.
  • फास्टिंग के दिनों में महिलाओं को 500 कैलोरी और पुरूषों को 600 कैलोरी तक लेनी चाहिए.

16/8 मेथड

  • इस प्रक्रिया में दिन में 14 से 16 घंटे फास्टिंग करना और 8 से 10 घंटों के बीच भोजन खाना होता है.
  • भोजन खाने वाले 8 से 10 घंटों के बीच आपको दो, तीन या चार बार भोजन कर सकते हैं.
  • अगर आसान शब्दों में समझे तो इस मेथड में आपको डिनर के बाद कुछ नही खाना है और ब्रेकफास्ट नही करना है.
  • उदाहरण के लिए अगर आप रात को 8 बजे डिनर करते है तो उसके बाद आपको 16 घंटे बाद कुछ खाना है. जो अगले दिन की दोपहर हो जाती है.
  • जबकि महिलाओं के लिए फास्टिंग 14 से 15 घंटों के बीच होनी चाहिए.
  • जिन लोगों को सुबह उठकर भूख लगती है और वह ब्रेकफास्ट जल्दी करते है तो उनको इस मेथड को अपनाने में समय लग सकता है.
  • भूख के अहसास को कम करने के लिए फास्टिंग के दौरान आप कॉफी, ज़ीरो कैलोरी ड्रिंक्स, पानी पी सकते है.
  • भोजन के 8 से 10 घंटों के बीच आपको मुख्य रूप से हेल्दी फ़ूड्स खाने चाहिए.
  • जबकि जंक फ़ूड्स खाने या ज्यादा कैलोरी लेने से इस फास्टिंग का कोई बेनेफिट नही मिलता है.

वैकल्पिक दिन की फास्टिंग

  • इस प्रक्रिया में आपको वैकल्पिक दिन में फास्टिंग करनी होती है.
  • इस मेथड के कई तरीके हो सकते है जिसमें कुछ सिर्फ फास्टिंग के दौरान 500 कैलोरी खाना होता है.
  • काफी सारे अध्ययनों में इसके लाभ देखने को मिले है.
  • इस मेथड के दौरान आपको हफ्ते में कई दिन भूखा सोना पड़ता है, जो लंब समय के लिए अच्छा नही है.

ईट स्टॉप ईट

  • इस मेथड के दौरान हफ्ते में एक या दो बार 24 घंटे का फास्ट रखा जाना चाहिए.
  • डिनर से शुरू करके अगले दिन के डिनर तक फास्टिंग करने पर 24 घंटे हो जाते है.
  • इस 24 घंटे के फास्टिंग मेथड को करने के लिए आप ब्रेकफास्ट से ब्रेकफास्ट या लंच से अगले दिन के लंच तक कर सकते है.
  • फास्टिंग के दौरान पानी, कॉफी और अन्य ज़ीरो कैलोरी ड्रिक्स लिए जा सकते है.
  • अगर आप इसे वजन कम करने के लिए कर रहे है तो आपको सामान्य भोजन खाना होगा.
  • काफी सारे लोगों के लिए 24 घंटे का फास्ट रखना मुश्किल हो सकता है.
  • ऐसे में आप 14 से 16 घंटों का फास्ट रखकर शुरू कर सकते है.

वारियर डाइट

  • इस डाइट के दौरान कम मात्रा में कच्चे फल और सब्जियों को खाना होता है.
  • जबकि रात को डिनर में भारी भोजन करना होता है.
  • इस मेथड में आपको पूरे दिन फास्ट रखना होता है और रात के समय 4 घंटे के भोजन खाने वाले समय में जमकर भोजन किया जा सकता है.
  • इन सभी डाइट में एक समानता होती है कि आपको पूर्ण अनाज वाला भोजन खाना चाहिए और प्रोसेस्ड फ़ूड्स से बचना चाहिए.

कभी-कभी भोजन स्कीप करना

  • आपको कोई विशेष प्रकार के फास्टिंग नियम को फॉलो करने की जरूरत नही है.
  • इसका सबसे अच्छा अन्य विकल्प है कुछ दिनों के अंतराल पर किसी एक भोजन को छोड़ देना या न करना.
  • भोजन छोड़ने का सबसे अच्छा तरीका है कि ज्यादा व्यस्त होने पर भोजन न करना.
  • समय-समय पर एक या दो भोजन को स्कीप करने से हमारे शरीर को कोई नुकसान नही होता है.
  • अगर किसी दिन आपको भूख नही लगती है तो आप उसे स्कीप कर सकते हैं.
  • इसके अलावा हमेशा हेल्दी फ़ूड्स खाने चाहिए.

अंत में

इंटरमिटेंट फास्टिंग एक वजन घटाने का अच्छा तरीका है जो कई लोगों पर काफी प्रभावी है लेकिन जरूरी नही कि यह हर किसी के लिए काम करें.

कुछ लोगों का मानना है कि यह पुरूषों की तुलना में महिलाओं के लिए ज्यादा प्रभावी है. जिन लोगों को भोजन से संबंधित डिसऑर्डर है उन्हें इंटरमिटेंट फास्टिंग नही करना चाहिए.

अगर आप इंटरमिटेंट फास्टिंग करना चाहते है तो ध्यान रखें कि हेल्दी फ़ूड्स खाना बहुत जरूरी है. जंक फ़ूड्स के साथ वजन कम करने की सोचना और हेल्थ बेहतर करना नही हो सकता है.