Select Page

हीमोग्लोबिन लेवल कैसे बढ़ाएं – how to increase hemoglobin in hindi

हीमोग्लोबिन लेवल कैसे बढ़ाएं – how to increase hemoglobin in hindi

लो हीमोग्लोबिन काउंट क्या होता है – what’s a low hemoglobin count in hindi

हमारे रेड ब्लड सेल्स में मौजूद प्रोटीन जो शरीर में ऑक्सीजन को एक से दूसरी जगह पर लेकर जाती है उसे हीमोग्लोबिन कहा जाता है. साथ ही सेल्स से कार्बन डाइऑक्साइड को बाहर करती है जिससे फेफड़े स्वस्थ रहते है.

लो हीमोग्लोबिन लेवल के कई कारण हो सकते है जैसे –

कुछ लोगों के हीमोग्लोबिन लेवल बिना किसी रोग के भी प्राकृतिक रूप से लो(कम) होते है. अन्य में लो हीमोग्लोबिन लेवल होने के साथ इसके कोई लक्षण नही होते है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है हीमोग्लोबिन लेवल कैसे बढाया जाएं –

हीमोग्लोबिन लेवल कैसे बढ़ाएं –  how to increase hemoglobin in hindi

शरीर में हीमोग्लोबिन बनने के लिए आयरन का रोल बहुत जरूरी होता है. आयरन में मौजूद प्रोटीन तत्व न केवल लाभ देते है बल्कि इसे पूरे शरीर में पहुँचाते है. इससे हमारे शरीर को रेड ब्लड सेल्स बनाने में मदद मिलती है जिन्हें हीमोग्लोबिन कहा जाता है.

हीमोग्लोबिन लेवल बढ़ाने के लिए जरूरी है कि आप –

हाई आयरन और फोलेट फ़ूड्स खाएं – eat foods high in iron and folate in hindi

  • ब्रोकली
  • काले
  • पालक
  • तोफू
  • पके हुए आलू
  • फॉर्टीफाइड सीरियल्स
  • हरी बीन्स
  • पत्ता गोभी

फोलेट विटामिन बी होता है जिसका काम हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन बनाना होता है. फोलेट के बिना रेड ब्लड सेल्स विकसित नही हो पाते है. इससे फोलेट की कमी अनेमिया और लो हीमोग्लोबिन लेवल हो सकते है. डाइट में फोलेट को शामिल करने के लिए –

  • एवोकाडो
  • पालक
  • राजमा
  • पीनट
  • चावल
  • लोबिआ

आयरन सप्लीमेंट – take iron supplements in hindi

  • अगर आप अपना हीमोग्लोबिन लेवल ज्यादा बढ़ाना चाहते है तो आपको काफी ज्यादा ओरल सप्लीमेंट लेने की जरूरत पड़ेगी.
  • हालांकि, ज्यादा आयरन लेने से हेमोक्रोमाटोसिस हो सकता है जिससे लिवर रोग जैसे सिरोसिस और अन्य साइड इफेक्ट हो सकते है.
  • इसके अलावा कब्ज, मतली और उल्टी भी हो सकते है.
  • किसी भी प्रकार के सप्लीमेंट को लेने से पहले डॉक्टर से सलाह ली जानी चाहिए जिससे वह आपकी स्थिति के आधार पर उचित उपचार दे सकें.

अधिकतम आयरन अवशोषण – maximize iron absorption in hindi

  • चाहे आप अपने आयरन इंटेक को फ़ूड्स या सप्लीमेंट से बढ़ा रहे हो, लेकिन इसका आपके शरीर को आसानी से प्रोसेस करना जरूरी है.
  • कुछ चीज़े आपके शरीर में आयरन के अवशोषण को कम कर सकती है.

आयरन अवशोषण को बढ़ाने वाली चीज़

  • जब आप हाई आयरन या सप्लीमेंट खाते है तो आप विटामिन सी फ़ूड्स या सप्लीमेंट ले सकते है.
  • विटामिन सी आपके शरीर में आयरन की मात्रा के अवशोषण को बढ़ा देता है.
  • इसके लिए आप नींबू पानी का सेवन कर सकते है जिससे आयरन फ़ूड्स का अवशोषण बढ़ जाए.
  • हाई विटामिन सी फ़ू्ड्स जैसे सिट्रस, स्ट्राबैरी, पत्तेदार हरी सब्जियाँ.
  • विटामिन ए भी हमारे शरीर को ज्यादा आयरन अवशोषण में मदद करता है.
  • इसके फ़ूड्स के लिए गाजर, शकरकंदी, आम आदि लिए जा सकते है.

आयरन अवशोषण को कम करने वाली चीज़े

  • सप्लीमेंट और फ़ूड सोर्स से मिलने वाले कैल्शियम के कारण आयरन का अवशोषण प्रभावित हो सकता है.
  • इसलिए आयरन के बेहतर अवशोषण के लिए कैल्शियम सप्लीमेंट को न लें.
  • हाई कैल्शियम फ़ूड्स में डडेयरी, बीज, सोयाबीन और अंजीर होते है.
  • इसके अलावा फाइटिक एसिड भी आयरन के अवशोषण को कम कर सकते है खासकर शाकाहारी लोगों में ऐसा होता है.
  • हाई फाइटिक एसिड वाले फ़ूड्स जैसे वालनट्स, ब्राजील नट्स और तिल के बीज होते है.

डॉक्टर को कब दिखाएं – when to see a doctor in hindi

लो हीमोग्लोबिन के कुछ मामलों को सिर्फ डाइट और सप्लीमेंट से ठीक नही किया जा सकता है. इसलिए हीमोग्लोबिन बढ़ाने की डाइट आदि लेने पर निम्न लक्षण दिख सकते है. ऐसे में तुरंत डॉक्टर से संपर्क किया जाना चाहिए.  

  • सिरदर्द
  • फास्ट या अनियंत्रित हार्टबीट
  • थकान
  • मांसपेशियों की कमज़ोरी
  • पीली त्वचा या मसूड़े

अंत में

हीमोग्लोबिन लेवल को बढ़ाने के लिए आप कई सारी चीज़े जैसे डाइटरी बदलाव या सप्लीमेंट का उपयोग कर सकते है. जब आप हीमोग्लोबिन बढ़ाने की प्रक्रिया में हो तो अपने डॉक्टर के संपर्क में जरूर रहें.

प्रेगनेंसी या किसी गंभीर हेल्थ कंडीशन में अतिरिक्त उपचार की जरूरत पड़ सकती है. समस्या के कारण और बदलावों के आधार पर हीमोग्लोबिन लेवल को बढ़ाने के हफ्तों से लेकर सालों तक लग सकते है.