Select Page

ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने के घेरलू नुस्खे – increase breast size naturally in hindi

ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने के घेरलू नुस्खे – increase breast size naturally in hindi

हर किसी के खूबसूरत दिखने की व्याख्या अलग होती है, क्योंकि हम सभी अलग होते है और हमारी पसंद भी अलग होती है. उसी तरह बहुत सारी महिलाएं ऐसी होता है जिनकी ब्रेस्ट का साइज़ कम होता है, जबकि उनकी इच्छा ब्रेस्ट का साइज बड़ा होने की होती है. इसके पीछे हर किसी के अपने अपने तर्क व समझ होती है.

काफी सारे तथ्यों का मानना है कि सेक्स के दौरान ब्रेस्ट आपके प्लेज़र को बढ़ाने में मदद करती है. इससे पुरूष व महिला दोनों साथियों को आनंद का पूर्ण अनुभव मिलता है.

खुद को फिट व हेल्दी रखना कुछ गलत नही है. साथ ही आज के तनाव भरे लाइफ़स्टाइल वाले समय में अपने स्वास्थ के बारे में जागरूक रहना भी बहुत जरूरी है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है प्राकृतिक रूप से ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने के टिप्स व एक्सरसाइज –

प्राकृतिक रूप से ब्रेस्ट साइज़ कैसे बढ़ाएं – how to increase breast size naturally in hindi

ब्रेस्ट साइज के कम या ज्यादा होने के बहुत सारे कारण जैसे जेनेटिक्स, लाइफ़स्टाइल और आपके शरीर का वजन आदि पर निर्भर करते है. बिना ब्रेस्ट साइज बढ़ाने की सर्जरी के स्तनों का आकार बढ़ाने के ऑप्शन सीमित होते है.

ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने वाले सप्लीमेंट, हर्ब, क्रीम, पंप और मसाज आदि को नैचुरल उपाय के रूप में बताया जाता है लेकिन इसके कोई तथ्य मौजूद नही है. इसके अलावा आपको अपने निप्पल से जुड़े फैक्ट पता होने चाहिए.

इसके लिए चेस्ट से जुड़ी एक्सरसाइज जो पैक्टोरल, कमर और कंधे की मांसपेशियों पर फोकस करके ब्रेस्ट टिश्यू के पीछे की चेस्ट मांसपेशियों पर फोकस करना होता है जिससे पोस्चर बेहतर होता है.

चेस्ट प्रेस एक्सटेंशन

  • इसके लिए हाथों में डंबल की जरूरत होती है.
  • अपने हाथों को कंधों की लाइन में लाएं और कोहनियों को बेंड करें.
  • जिसके बाद धीरे से हाथों को सीधा करें.
  • अपनी जरूरत के अनुसार आप एक बार में एक हाथ को ऊपर व नीचे कर सकते है.
  • इसके 12 रेपीटेशन के 3 सेट किए जा सकते है.

पुश-अप

  • अपने चेस्ट के बराबर में हाथों को फ्लोर पर रखें.
  • हाथों की मदद से अपने शरीर को ऊपर की ओर उठाएं.
  • कोहनी को पूरा सीधा न करें, हल्का बेंड रखें.
  • जिसके बाद धीरे से शरीर को वापस नीचे की ओर लेकर जाएं.
  • इसके 3 सेट 12 रेपीटेशन के साथ कर सकते है. 

वॉल प्रेस

  • दीवार के सामने खड़े हो जाएं.
  • अपनी हथेलियों को दीवार पर चेस्ट की सामान हाइट पर रखें.
  • धीरे-धीरे कंट्रोल के साथ आगे की ओर इतना झूके की आपके सिर और दीवार में कुछ इंच का अंतर रह जाए.
  • जिसके बाद फिर से अपनी पोजीशन में आ जाए.
  • इस प्रक्रिया को 10 से 15 बार करें.

आर्म सर्कल

  • अपने हाथों को साइड में कंधे के लेवल तक उठाएं.
  • इसके बाद क्लॉकवाइज और एंटी-क्लॉकवाइज 1 मिनट तक छोटे सर्कल बनाएं.
  • इसके बाद हाथों को ऊपर व नीचे धीमे मोशन में 1 मिनट तक करें.
  • इसके 1 या 2 सेट करें.
  • जरूरत पड़ने पर इसे वेट के साथ कर सकते है.
  • साथ ही इससे हाथों पर चर्बी कम होती है.

प्रेयर पोज़

  • अपने हाथों को मिलाकर नमस्ते की पोजीशन में आगे की ओर 30 सेकेंड तक खीचें.
  • कोहनी को बिल्कुल सीधा करे और फिर चेस्ट तक वापस लेकर आए.
  • 10 सेकेड के बाद फिर से रिलीज करें.
  • इसे कम से कम 15 बार दोहराएं. 

खड़े होकर चेस्ट प्रेस

  • अपनी कोहनी को 90 डीग्री पर मोड़कर ऊपर की ओर उठाए.
  • अपने हाथों को ज्यादा से ज्यादा खोले और फिर सामने की तरफ लाकर मिलाएं.
  • इस प्रक्रिया को कम से कम 1 मिनट तक करें.

आर्म प्रेस

  • इसे खड़े होकर या बैठकर कर सकते है.
  • इसमें हाथों को खोले और पीछे पीठ की ओर लेकर जाएं जिससे बैक बेंड हो.
  • इसके बाद हाथों को वापस सामने लेकर आएं.
  • इसे 1 मिनट तक करना चाहिए.
  • जबकि ताकत बढ़ान के लिए इसे वेट के साथ किया जा सकता है.

आप इन बताई गई चेस्ट की एक्सरसाइज़ को घर पर वेट के साथ कर सकते है. हमेशा ध्यान रखें कि एक्सरसाइज़ करते समय इंजरी से बचने के लिए अच्छी तकनीक का प्रयोग करें.

अंत में

किसी भी एक्सरसाइज या नुस्खे को शुरू करने के बाद परिणाम मिलने में थोड़ा समय मिलता है. इसके अलावा ब्रेस्ट के साइज में बदलाव आपके मासिक धर्म चक्र पर निर्भर करता है. इसके लिए आपको छोटे छोटे बदलाव नोट करने की जरूरत होती है. जबकि जिन महिलाओं की ब्रेस्ट का साइज ज्यादा होता है और वह अपनी ब्रेस्ट का साइज़ कम करना चाहती हैं तो उनको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.