Select Page

आयोडीन युक्त फ़ूड्स – iodine rich foods in hindi

आयोडीन युक्त फ़ूड्स – iodine rich foods in hindi

आयोडीन एक आवश्यक मिनरल है जो आपको अपनी डाइट से मिलनी चाहिए. दिलचस्प बात यह है कि आपके थायरॉयड ग्लैंड को थायरॉयड हार्मोन का उत्पादन करने की आवश्यकता होती है, जो आपके शरीर में कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां हैं.

अधिकांश वयस्कों के लिए आयोडीन का अनुशंसित दैनिक सेवन 150 एमसीजी प्रति दिन है. जो महिलाएं गर्भवती या स्तनपान कराने वाली होती हैं, उनके लिए प्रति दिन डोज आवश्यकताएं अधिक होती हैं.

काफी सारे लोगों के शरीर में आयोडीन की कमी होती है जिसके कारण थायरॉयड ग्लैंड की सूजन जिसे हाइपोथायरॉइडिज़्म और गॉइटर के रूप में जानी जाती है. इसके कारण थकान, मांसपेशियों की कमजोरी और वजन बढ़ना शामिल है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है आयोडीन युक्त फ़ूड्स के बारे में जिनकी मदद से इसकी कमी होने से बचा जा सकता है.

आयोडीन युक्त फ़ूड्स – iodine rich foods in hindi

सी-वीड

  • इसे एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और मिनरल का अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • यह कम कैलोरी वाला होता है.
  • इसे आयोडीन का प्राकृतिक सोर्स माना जाता है.
  • सी-वीड के प्रकार, जगह और विकसित होने के आधार पर आयोडीन की मात्रा अलग हो सकती है.
  • कॉम्बू केल्प – ब्राउन रंग की सी-वीड सूखे और पाउडर के रूप में उपलब्ध होती है.
  • वाकामे – यह ब्राउन होने के अलावा स्वाद में थोड़ी मीठी होती है.
  • नोरी – यह एक प्रकार की लाल सी-वीड है इसमें आयोडीन की मात्रा कम होती है.

श्रिम्प

  • यह कम कैलोरी वाला, प्रोटीन रिच फ़ूड होता है जिसे आयोडीन का अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • साथ ही इसमें विटामिन बी12, सेलेनियम और फोस्फोरस भी मुख्य पोषक तत्व होते है.
  • श्रिम्प समेत अन्य सीफूड को आयोडीन का बहुत अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • ऐसा इसलिए क्योंकि समुद्र के पानी में आयोडीन नैचुरल रूप से मौजूद होता है. (जानें – प्रॉन और श्रिम्प में क्या होता है अंतर)

कॉड

  • यह सफेद मछली लो पैट और कैलोरी का सोर्स होती है.
  • इसमें कई पोषक तत्व और मिनरल समेत आयोडीन भी होता है.

सेम (लाइमा बीन्स)

  • इनको फाइबर, मैग्नीशियम, फोलेट को अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • यह हार्ट के लिए अच्छे होते है. (जानें – मैग्नीशियम रिच फ़ूड्स कौन से होते है)
  • शाकाहारी होने के अलावा इनको आयोडीन का अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • मिट्टी, पानी और फर्टिलाइजर के कारण आयोडीन का मात्रा फलों और सब्जियों में अलग हो सकती है.

ट्यूना

  • यह लो कैलोरी, हाई प्रोटीन और आयोडीन से पूर्ण होता है.
  • साथ ही यह आयरन, पोटेशियम, विटामिन-बी के अच्छे सोर्स होते है.
  • इसे ओमेगा-3 फैटी एसिड का अच्छा सोर्स माना जाता है जो हार्ट रोग के रिस्क को कम करता है.
  • ज्यादा फैट की मात्रा वाली फिश में आयोडीन कम होता है.

सूखा आलूबुखारा

  • इन्हें आयोडीन का अच्छा शाकाहारी सोर्स माना जाता है.
  • सूखा आलूबुखारा को कब्ज में राहत के लिए भी जाना जाता है.
  • इसमें हाई फाइबर समेत अन्य जरूरी तत्व होते है.
  • यह विटामिन, पोषण, विटामिन-के, विटामिन-ए, आयरन और पोटेशियम में हाई होते है.
  • इनसे हार्ट के स्वास्थ को बेहतर होने, कोलन कैंसर का रिस्क कम होने, भूख कम करके वजन को मैनेज करने में मदद मिलती है. 

डेयरी

  • दूध और इससे बने प्रोडक्ट को आयोडीन का प्रमुख सोर्स माना जाता है.
  • हालांकि, दूध और इससे बने प्रोडक्टों में आयोडीन की मात्रा अलग होती है.
  • दही को आयोडीन का अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • एक कप दही में दिन की जरूरत का आधे से ज्यादा आयोडीन होता है.
  • प्रकार के आधार पर चीज़ में आयोडीन का मात्रा अलग हो सकती है.

आयोडीन वाला नमक

  • बाजार में दोनों प्रकार के नमक उपलब्ध है.
  • आोयडीन वाले नमक में सोडीयम की मात्रा भी होती है.
  • हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को सोडीयम का सेवन नहीं करना चाहिए.

अंडे

  • अंडे को आयोडीन का अच्छा सोर्स माना जाता है.
  • 100 से कम कैलोरी, लीन प्रोटीन, हेल्दी फैट और विटामिन, मिनरल का सोर्स होते है.
  • इसके अधिकांश पोषक तत्व इसके यॉल्क से मिलते है.

अंत में

आयोडीन एक जरूरी मिनरल होता है जिसके अच्छे सोर्स सीमित होते है. इसी कारण लोगों में आयोडीन की कमी होने के आसार अधिक होते है. इस लेख में बताए गए फ़ूड्स में आयोडीन की मात्रा अच्छी होती है. इन्हें अपने रूटीन में शामिल करके लाभ उठाया जा सकता है.