Select Page

एनल सेक्स के फायदे – benefits of anal sex in hindi

एनल सेक्स के फायदे – benefits of anal sex in hindi

अगर आपको गुदा या कहे एनल सेक्स करने का आइडिया आपके अलग ही तरह से उत्तेजित कर रहा है  तो आज इस लेख में आप जानेंगे एनल सेक्स करने के क्या होते है फायदे – 

क्या होते है एनल सेक्स करने के फायदे – what are the benefits of anal sex in hindi

तीव्र ऑर्गेज़म

  • एक अध्ययन में पाया गया कि एनल सेक्स करने वाली अधिकतर महिलाओं को ऑर्गेज़म हुआ.
  • साथ ही एनल सेक्स के दौरान होने वाला ऑर्गेज़म काफी तीव्र होता है.
  • ऐसा इसलिए क्योंकि गुदा में काफी सारी संवेदनशील नर्व होती है जो जननांग से जुड़ी हुई होती है.
  • इसके अलावा गे पुरूष जो एनल सेक्स करते है उनमें यह प्रोस्टेट को उत्तेजित करके ऑर्गेज़म करने में मदद करता है.
  • सिर से लेकर पैर तक ऑर्गेज़म का आनंद पहुँचाने में प्रोस्टेट ऑर्गेज़म भी काफी तीव्र होते है.
  • जबकि लेस्बियन महिलाएं जब सेक्स करती है तो उनके दो स्पॉट हीट होने होते है – जी-स्पॉट और ए-स्पॉट.
  • यह दोनों स्पॉट वेजाइनल वॉल के पास होते है जो एनल सेक्स के दौरान उत्तेजित होता है.
  • प्रोस्टेट की ही तरह इन स्पॉट में भी पूरे शरीर का ऑर्गेज़म करने की क्षमता होती है.
  • सही तरीके से रब करने से महिला इजेकुलेशन हो सकती है जिसे स्वर्टिंग कहते है.

कुछ लोग इसे अच्छा नहीं मानते

  • हालांकि पहले के मुकाबले एनल सेक्स अब ज्यादा आम हो गया है.
  • लेकिन काफी सारे लोग इसे अभी भी गलत मानते है.
  • फैंटसी होना आम है और इसमें कुछ गलत नहीं होता है.

शरीर के नए एरिया के जानने में मदद

  • जब तक आप पता न लगाए तब तक आपको पता नहीं लगता है कि नया पार्ट कितना प्लेजर दे सकता है.
  • दूसरे किसी सेक्स की तुलना में एनल सेक्स बिल्कुल अलग अनुभव होता है.
  • सामान्य रूप से करते रहने वाली प्रक्रिया को बदलना आप और आपके पार्टनर के लिए अच्छा हो सकता है. 

सेक्स इच्छाओं को जानना

  • अपनी चाहतो और अनुभवों के बारे में खुलकर बात करना काफी मदद कर सकता है.
  • खुद को आजाद कर प्लेजर जानना बेहतर हो सकता है.
  • ऐसा करने से आपको अलग प्रकार की खुशी मिल सकती है.

नए सेक्स टॉय का उपयोग

  • प्लेजर के लिए नई जगहों को जानना और बात करना.
  • सेक्स टॉय इसमें आपकी काफी मदद कर सकते है क्योंकि यह किसी के भी लिए उन्दा बना सकते है.
  • एनल टॉय इसके लिए बेहतर ऑप्शन है. जिसमें पेनिस या डिलडो का उपयोग हो सकता है.
  • हमेशा ध्यान रहें कि अगर आप दोनों को पेनिट्रेशन पसंद है तो टॉय को साफ करने के बाद ही इस्तेमाल करें.

पार्टनर को बेहतर जानने

  • एनल सेक्स करने के लिए अच्छी बातचीत.
  • अलग अलग एंगल और पेजीशन आज़माना.
  • क्या अच्छा लगा या क्या बुरा यह जानना जरूरी होता है.
  • इससे दो पार्टनर के बीच एक दूसरे को बेहतर जानने में मदद मिलती है.

कुछ फायदे भी होते है

  • आप चाहे ओरल सेक्स, पेनिट्रेटिव सेक्स या हस्तमैथुन ही क्यों न करें इनके लाभ होते है.
  • सेक्स करने से सिरदर्द में राहत, लिबिदो बेहतर होता है, बेहतर नींद, हार्ट रोग, हाई ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक आदि का रिस्क कम होता है.
  • साथ ही इससे इम्यून सिस्टम बेहतर होने, मासिक धर्म ऐंठन में आराम और अच्छा मूड रहता है.
  • इसके अलावा प्रोस्टेट उत्तेजना से इरेक्टाइल डिस्फंक्शन, प्रोस्टेट समस्या और दर्दनाक स्खलन से बचाव और इलाज दोनों होते है.
  • एनल के दौरान ऑर्गेज़म होने पर इंफ्लामेशन कम होने, स्किन बेहतर होने, दर्द कम होने, सर्कुलेशन अच्छी होने, तनाव कम करने में मदद मिलती है.

प्रेगनेंसी का रिस्क कम होने

  • हालांकि एनल सेक्स करते समय कंडोम जरूरी पहनना चाहिए क्योंकि इससे एसटीआई की रिस्क बढ़ जाता है.
  • प्रेगनेंसी के लिए योनि सेक्स जरूरी होता है.

सेक्सुअली ट्रांसमिट रोग

  • योनि में पेनिस वाले सेक्स में भी यौन संचारित रोग का खतरा रहता है.
  • वहीं बात करें एनस सेक्स की तो उसमें तो यह सबसे अधिक होता है.
  • एनल सेक्स में एचआईवी ट्रांसमिशन के रिस्क बढ़ जाते है.
  • एसटीआई के कारण क्लैमाइडिया, गोनोरिया, हर्पस आदि हो सकते है.
  • मल के संपर्क में आने से भी यह फैल सकती है.
  • सुरक्षित एनल सेक्स करने से एचआईवी, एसटीआई और अन्य इंफेक्शन से बचाव का बेहतर तरीका है.
  • कंडोम का उपयोग, ल्यूब आदि से सुरक्षित रहने में मदद मिल सकती है.
  • हमेशा ध्यान रहें कि योनि वाले कंडोम का उपयोग गुदा में न करें.
  • सेक्स टॉय के मामलों में उन्हें ठीक से साफ कर लें.
  • मल के कारण यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का रिस्क रहता है.
  • यहीं पेनिस के मुंह में लेने के कारण भी मुंह में बैक्टीरिया आदि हो सकते है.

अंत में

आपका गुदा, आपका निर्णय है. आप अपनी मर्जी से चुन सकते है. अपने पार्टनर को खुद पर एनल सेक्स के लिए प्रेसन न बनाने दें. पूरी तरह से सोचने समझने के बाद ही गुदा सेक्स करना चाहिए. फैंटसी के रूप में एनल सेक्स प्लेजर दे सकता है जिससे सेक्स लाइफ अच्छी बन सकती है. आप इसे अकेले या पार्टनर के साथ भी कर सकते है. वहीं सही जानकारी न होने के कारण भविष्य में गुदा संबंधी गंभीर समस्याओं का रिस्क रहता है. किसी एन्य समस्या या जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें.