Select Page

सुखद और आसान सेक्स पोजीशन – Easy and comfortable sex positions in hindi

सुखद और आसान सेक्स पोजीशन – Easy and comfortable sex positions in hindi

अगर सेक्स के दौरान आपको कुछ असहज लगता है तो इसका मतलब है कि आपको अपनी सेक्स लाइफ को कुछ आसान और मज़ा बढ़ाने वाले बदलाव करने चाहिए. सेक्स कभी भी असहज नही होना चाहिए बशर्ते किसी अजीबो-गरीब तरीके से न किया जाए.

ऐसा बहुत बार देखने को मिलता है कि आपके पार्टनर को किसी सेक्स पोजीशन में अधिक सुखद अनुभव होता है लेकिन जरूरी नही कि आपको उस पोजीशन में उतना ही ज्यादा मज़ा मिलें. इसके अलावा दोनों पार्टनर को बात करके पता लगाना चाहिए कि आप दोनों को किसी प्रकार का सेक्स पसंद है जो आसान या दर्द वाला सेक्स हो सकता है.

जबकि बहुत बार होता है कि पार्टनर के साथ किसी एक पोजीशन में दोनों को भरपूर मज़ा आता है लेकिन कुछ समय के बाद फिर से कुछ नया ट्राई करने का मन करता है.

आज इस लेख में हम आपको बताने वाले है ऐसे ही कुछ आरामदायक, सुखद सेक्स पोजीशन जिनकी मदद से आप बेहतर सेक्स के साथ खुद को सैटिस्फाइ करने में मदद करेंगे.

इसके दौरान प्लेज़र बढ़ाने के लिए क्लीटोरल का उपयोग जिससे योनि में पेनिस के प्रवेश से पहले खुद को लूब्रिकेट करने जिससे किसी प्रकार का योनि का सूखापन न रहें और आरामदायक सेक्स हो सके.

आसान सेक्स पोजीशन – easy sex positions in hindi 

मीशनरी

  • शरीफों वाला टाइम जब दोनों पार्टनर बैकग्राउंड में गाने चलने और बेड पर आसानी से लेट जाने पर योनि में पेनिस का प्रवेश कर सेक्स करते थे.
  • यह सबसे आसान पोजीशन होती है जिसमें महिला पार्टनर सीधी लेटी हुई होती है.
  • जिसके बाद उसकी मर्जी से उसके पैरो को खोलकर एक दूसरे के प्रजनन अंगों को स्पर्श करवाते है.
  • यह पोजीशन सबसे बेहतर काम इसलिए करती है क्योंकि यह साइज पर निर्धारित न होकर एक दूसरे से स्नेह को दर्शाती है.

लीन इंटू मी

  • इसके लिए सबसे पहले कोई दीवार के सहारे खड़े हो जाएं.
  • एक दूसरे को देखते हुए चुने की कौन किसके नीतंबू होल्ड करेगा.
  • और अपने पैरो को पार्टनर के पैरो में हुक करेगा.
  • एक दूसरे के प्राइवेट पार्ट को उत्तेजीत करने की कोशिश करें जिसके लिए थोड़ा ओरल सेक्स से शुरू कर सकते हैं.
  • इसके लिए महिला साथी के योनिमुख को रब करना.
  • जबकि महिला साथी पुरूष के पेनिस के साथ खेल सकती है.
  • जिसके बाद शरीर को मूव करते हुए चाहे तो खुद दीवार से लगकर या
  • अपनी महिल साथी को दीवार से लगाकर प्रेनिट्रेशन कर सकते है.

तकीये के टॉप पर बैठना

  • इसके लिए तकीया ले और आगे की तरफ मुँह करके लेटे.
  • तकीये को पेट के नीचे पेल्विस पर लगा लें.
  • अपने घूटनों को मोड़े और पैरो को खोल लें.
  • इसके बाद पेल्विस को ऊपर की तरफ उठाएं.
  • इस पोजीशन में सेक्स करने पर पेनिस ज्यादा अंदर तक प्रवेश कर पाता है.
  • साथ ही इससे क्लीटोरल की उत्तेजना भी बढ़ती है.

साइड कड्डल

  • इसे एक दूसरे को देखते हुए या महिला पार्टनर को पीछे से कड्डल करते हुए भी कर सकते हैं.
  • अगर आप महिला साथी को सामने से देखते हुए सेक्स करना चाहते है तो अपने पेनिस के प्रवेश के लिए एंगल बना लें.
  • जबकि पीछे से कड्डल करते हुए पेनिस का योनि में प्रवेश चाहने पर अपने नीतंबू से स्पीड कंट्रोल की जा सकती है.
  • जिसमें स्पीड और गहराई को कंट्रोल कर सकते है.
  • हालांकि, यह एनल सेक्स के लिए बेहतरीन पोजीशन मानी जाती है.

राइडिंग पोजीशन

  • इस पोजीशन में महिला पार्टनर ऊपर होती है.
  • जिसमें पुरूष पार्टनर नीचे होता है और महिला ऊपर सवारी वाली पोजीशन में होती है.
  • इंटीमेट होने के लिए यह बेस्ट सेक्स पोजीशन होती है.
  • जिसमें चुंबन और एक दूसरे की आँखों में आसानी से देखा जा सकता है.
  • इससे न सिर्फ क्लीटोरिस को पोजीशन करने में आसानी होती है बल्कि सेक्स का आनंद बढ़ाने में भी सहायक होती है.
  • जिसमें पुरूष पार्टनर अपना पेनिस आसानी से योनि में प्रवेश कर थ्रस्ट कर सकता है.

दी डूओ

  • महिला पार्टनर को पीठ पर लेटकर उसके दोनों पैरो को ऊपर उठाएं.
  • जिसके बाद वह अपनी क्लीटोरिस को खुद से उत्तेजीत कर सकती हैं.
  • योनि में लिंग के पेनिट्रेशन के साथ अधिक आनंद के लिए 
  • आपका पार्टनर आपको किस या ब्रेस्च को टच कर सकता है.

बायकॉट

  • अगर आप सबकुछ ट्राई कर चुके है और फिर भी पेनिट्रेशन के दौरान दर्द महसूस कर रहें या रही है.
  • तो ऐसे में पेनिट्रेशन को थोड़े समय के लिए भूल जाना चाहिए.
  • इसके बदले कुछ और जैसे एक दूसरे को टच करना, हस्तमैथुन आदि कर सकते हैं.
  • कामुख मसाज करना आदि किया जा सकता है.
  • इसके अलावा इस ब्रेक के दौरान आप एक दूसरे के साथ 69 भी ट्राई कर सकते है.
  • जिसके लिए एक दूसरे का मुँह प्राइवेट पार्ट पर होता है.

दी रैबिट

  • इसके अलावा जरूरी नही कि वाइब्रेटर जैसे किसी सेक्स टॉय का इस्तेमाल न हो.
  • अपने पार्टनर को जलाने के लिए पेनिट्रेशन के साथ सेक्स टॉय का प्रयोग किया जा सकता है.
  • वाइब्रेटर को क्लीटोरिस पर लगाया जा सकता है जिससे उत्तेजना बढ़ जाए.
  • साथ ही इसके साथ अलग अलग पोजीशन भी आज़माए जा सकती है.
  • वाइब्रेटर का प्रयोग ऑर्गेज़म होने तक किया जा सकता है.
  • लेकिन ध्यान रहें कि इसके बारे में आप अपने पार्टनर से पहले ही बात कर लें.
  • एक दूसरे की इच्छाओं को जान लें और सम्मान करें.

सेक्स के प्रदर्शन की चिंता न करना

सेक्स को हमेशा खुले दिमाग के साथ बिना किसी टेंशन के किया जाना चाहिए जिससे इसका पूरा आनंद उठाया जा सकें. सेक्स के दौरान एक दूसरे से बातचीत करना, ल्यूब करना या एक्सपेरिमेंट करना आदि किया जा सकता है.

लेकिन सेक्स शुरू करने से पहले आपको पता होना चाहिए कि सुरक्षित सेक्स के बारे में पता होना चाहिए. साथ ही कुछ नया ट्राई करने के लिए सेक्स पोजीशनों की जानकारी होना भी जरूरी है. जिससे सेक्स का पूरा मज़ा उठाया जा सकता है.