Health

अपच की समस्या के कारण और घरेलू उपचार – Indigestion causes and home remedies

indigestion-causes-and-home-remedies-hindi

अपच की समस्या जिसे अंग्रेजी में इनडाइजेशन भी कहा जाता हैं. इस समस्या को चिकित्सीय भाषा में डायसेप्सिया कहा जाता हैं और यह पेट में भोजन पचाने वाले रसायनों की कमी और तेज मसाले वाला खाना खाने के कारण होती हैं. इसके अलावा अपनी भूख से ज्यादा भोजन खा लेने के कारण भी यह समस्या हो सकती हैं.

इनडाइजेशन के दौरान व्यक्ति को बहुत ज्यादा गैस, उल्टी, पेट में दर्द, सीने या पेट में जलन आदि जैसी परेशानीयाँ हो सकती हैं. जिसमें अपच के घरेलू उपाय फायदेमंद साबित हो सकते हैं. आज हम आपको बताएंगे अपच की समस्या के घरेलू उपचार जो इस प्रकार हैं.

अपच की समस्या के घरेलू उपचार

सेब का सिरका

अपच से राहत के लिए एक चम्मच कच्चे सेब के सिरके को एक कप पानी में मिलाएं.
फिर इसमें एक चम्मच कच्चा शहद मिलाएं.
इसे दिन में दो से तीन बार पीएं.

सौंफ
सौंफ के दानों को तवे पर हल्का सा गर्म करें और उसका पाउडर बना लें.
पानी के साथ इस पाउडर को दिन में दो बार लेने से अपच से राहत मिलती हैं. साथ ही यह माउथ फ्रेशनर की तरह काम भी करती हैं.

अदरक

दरक के छोटे छाटे टुकड़ों पर नमक डालकर उन्हें चबाया जा सकता हैं.
इसके अलावा दो चम्मच अदरक के रस में नींबू का रस और थोड़ा सा काला नमक मिलाकर बिना पानी के पीने से बेहद राहत मिलती हैं.
अदरक के रस और शहद को गुनगुने पानी के साथ भी लिया जा सकता हैं.
अदरक की चाय या खाना बनाने में अदरक का प्रयोग बेहद लाभ देता हैं.

बेकिंग सोडा

इनडाइजेशन से बचने के लिए बेकिंग सोडा सबसे अच्छा अपच का घरेलू उपाय हैं.
आधे गिलास पानी में थोड़ा सा बेकिंग सोडा मिलाएं और उसे पीएं. इससे तुरंत राहत मिलती हैं.

अजवायन

इसका इस्तेमाल पेट को ठीक रखने और खाने को पचाने के साथ-साथ पेट के दर्द में आराम देने के लिए भी होता हैं. इसके लिए सबसे पहले सौंठ और अजवायन को मिलाकर पाउडर बनाएं.
एक चम्मच पाउडर में काली मिर्च मिलाएं और गर्म पानी के साथ पीएं.
इसे दिन में एक या दो बार पी सकते हैं. इसके अलावा अजवायन के दानों को मुँह में रखकर चबाने से भी आराम मिलता हैं.

हर्बल चाय

पुदीना या ग्रीन टी पाचन शक्ति को अच्छा करती हैं.
भोजन के बाद एक कप हर्बल टी पीने से खाना जल्दी पचता हैं.
इसके सेवन से पेट में वसा भी जमा नहीं होती हैं.

नमकीन छाछ

भोजन के साथ नमकीन छाछ का इस्तेमाल भी आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाता हैं.
रात के समय दही की जगह छाछ में काला नमक और भुना हुआ जीरा डालकर पीएं.
पेट में जलन होने पर इसके सेवन से राहत मिलती हैं.

इसके अलावा सुबह नाश्ते में और दोपहर के खाने में छाछ लेना अच्छा होता हैं. वहीं गर्मियों में इसका सेवन पेट के साथ-साथ पूरे शरीर के लिए लाभदायक होता हैं.

इन सभी अपच की समस्या के घरेलू उपचार को अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में उपयोग कर आप इस समस्या से निदान पा सकते है और खुद को इस परेशानी से दूर रख सकते हैं.

0 Comments
Share

Kartik Bhardwaj

Hi guys! मेरे ब्लॉग डेली ट्रेंड्स में आपका स्वागत है, प्रोफेशनली में एक डिजिटल मार्केटर हूँ और हिंदी में ब्लॉग लिखना मुझे पसंद है. स्पोर्ट, एंटरटेनमेंट, टेक्नोलॉजी, न्यूज़ और पॉलिटिक्स मेरे पसंदीदा टॉपिक्स है जिन मुद्दों पर में लिखता हुँ, आप ऐसे ही मेरे ब्लॉग पड़ते रहें और शेयर करते रहें.

Reply your comment

Your email address will not be published. Required fields are marked*

About Us