Select Page

बालों को तेज़ी से कैसे बढ़ाएं – how to grow hair faster

बालों को तेज़ी से कैसे बढ़ाएं – how to grow hair faster

इस लेख में आप जानेंगे बालों को तेज़ी से कैसे बढ़ाएं, बालों की ग्रोथ रूकने के कारण और हेयर ग्रोथ के टिप्स –

बालों को तेज़ी से कैसे बढ़ाएं – how to grow hair faster

  • हम बालों के फॉलिकल्स की कुल मात्रा के साथ पैदा होते हैं जो हमारे शेष जीवनकाल में कभी भी नहीं हो पाती है.
  • हमारे शरीर पर करीब 50 लाख बाल होते है.
  • लेकिन सिर पर करीब एक लाख फॉलिकल्स होते है.
  • आयु बढ़ने के साथ कुछ फॉलिकल्स बालों को विकसित करना बंद कर देते है.
  • जिस कारण गंजापन या बालों का पतला होना शुरू हो जाता है. (जानें – बालों के झड़ने की रोकथाम कैसे करें)
  • इसके अलावा बालों का विकास आयु, संपूर्ण हेल्थ, बालों के विशेष प्रकार और अन्य हेल्थ कंडीशन पर निर्भर करती है.

हेयर ग्रोथ की स्टेज

  • एनाजेन – बालों का एक्टिव ग्रोथ फेज जो 2 से 8 सालों तक रहता है.
  • कैटाजेन – यह ट्रांजिशन फेस होता है जिसमें 4 से 6 हफ्तों के लिए बालों की ग्रोथ बंद हो जाती है.
  • टेलोजेन – यह रेस्टिंग फेज होता है जिसमें बालों का झड़ना 2 से 3 महीनों तक रहता है.
  • औसतन स्कैल्प में 90 से 95 फीसदी हेयर फॉलिकल्स पहली स्टेज में रहते है.
  • जबकि बचा हुआ 5 से 10 फीसद दूसरा फेज होता है.
  • वहीं बात करें तीसरे फेज की, तो 100 से 150 बाल रोजाना झड़ते है.

क्या बालों के एनाजेन फेज को बढ़ाया जा सकता है?

  • यह आपके बालों की लंबाई और हेयर सेल्स के बनने पर निर्भर करता है.
  • बालों की ग्रोथ तब होती है जब मैट्रिक्स सेल्स ऊपरी फॉलिकल्स तक पहुंच जाते है.
  • इस बढ़ने वाला स्ट्रकचर क्रिएटिन के साथ मिलकर बालों का स्ट्रेंड बनाते है और स्किन से बाहर निकल आते है.

हेयर ग्रोथ को प्रभावित करने वाले फैक्टर

  • हार्मोनल बदलाव
  • दवाएं
  • जेनेटिक्स
  • हेयर लॉस का पारिवारिक इतिहास
  • तनाव
  • पोषण की कमी
  • अन्य रोग या कंडीशन
  • फॉलिकल्स को नुकसान पहुंचाने वाले क्षति
  • बिना किसी कारण के गंभीर हेयर लॉस होने पर डॉक्टर से बात कर सलाह लें.

प्रेगनेंसी के दौरान और बाद में हेयर ग्रोथ

  • जो महिलाएं गर्भवती हैं उन्हें लग सकता है कि उनके बाल वास्तव में तेजी से बढ़ रहे हैं.
  • जिन महिलाओं को अभी बच्चा हुआ है उन्हें ऐसा महसूस हो सकता है कि वे सामान्य से तेज गति से अपने बाल खो रही हैं. (जानें – महिलाओं में गंजापन के बारे में)
  • ऐसा इसलिए क्योंकि गर्भावस्था के दौरान एस्ट्रोजन हार्मोन के कारण महिलाओं में हेयर फॉलिकल्स विकसित ज्यादा होते है.
  • शिशु के जन्म के बाद वह हेयर फॉलिकल्स झड़ने लगते है. 

बालों के मजबूत कैसे बनाएं

  • बाल – क्रिएटिन और डैड स्किन सेल्स से बने हुए होते है.
  • एक रात में बालों की ग्रोथ को बढ़ा देने वाले कोई मेथड नहीं है.
  • लेकिन बालों को हेल्दी और लंबा रखने के लिए कुछ स्टेप्स लिए जा सकते है.
  • इसके लिए डॉक्टर से बात कर सालग ली जानी चाहिए, वह आपको निम्न उपाय का सुझाव दे सकते है.

विटामिन और पोषक तत्व

  • जबकि कई कंपनियां बालों के विकास के लिए विटामिन या सप्लीमेंट को बढ़ावा देती हैं, वे हमेशा बालों की लंबाई को सीधे प्रभावित नहीं करती हैं.
  • लेकिन आपके बालों को बढ़ने के लिए शरीर को बहुत अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है.
  • संतुलित भोजन और पोषक तत्वों की कमी से बाल विकास को प्रभावित कर सकते हैं.
  • विटामिन में – ओमेगा-3, जिंक, विटामिन सी, विटामिन बी5, बायोटिन, आयरन, विटामिन डी आदि होते है.

क्रिएटिन सप्लीमेंट

  • हालांकि प्रोटीन, क्रिएटिन और विटामिन को लेकर अधिक अध्ययन उपलब्ध नहीं है.
  • लेकिन यह सप्लीमेंट हेयर लॉस में कमी, बालों को मजबूत करने और चमकदार बनाने में मदद करते है.

एसेंशियल ऑयल

  • एसेंशियल ऑयल के कुछ ड्रॉप्स को शैम्पू के साथ या किसी दूसरे ऑयल के साथ मिला लें.
  • एक अध्ययन के अनुसार, कद्दू के बीज को पुरूषों में हेयर लॉस को कम करने के लिए देखा गया.
  • एसेंशियल ऑयल को सीधे स्किन पर लगाने से बचना चाहिए.
  • इनका उपयोग करने से पहले किसी दूसरे ऑयल के साथ इसे मिलाएं.
  • इन मिलाने वाले ऑयल में मिनरल, अरंडी का तेल, सूरजमुखी का तेल, नारियल तेल आदि.

प्रोटीन

  • प्रोटीन आपके बालों को बढ़ने और रासायनिक और पर्यावरणीय क्षति से बचाने में मदद करता है.
  • यदि आप अक्सर अपने बालों को स्टाइल करते हैं या गर्मी लगाते हैं, तो प्रोटीन उपचार का उपयोग करके अपने बालों की रक्षा कर सकते हैं.
  • शैम्पू के बाद नारियल तेल का उपयोग करने से प्रोटीन का खोना कम हो जाता है.
  • लेकिन बहुत अधिक प्रोटीन आपके किडनी को प्रभावित कर सकता है.
  • साथ ही इससे बाल नाजुक भी हो जाते है लेकिन यह बहुत रेयर है.
  • कोशिश करें कि सप्लीमेंट के स्थान पर डाइट से प्रोटीन लिया जाना चाहिए.
  • आपको सब्जियों, दही, नट्स आदि से प्रोटीन मिल सकता है.

अंत में

बालों के विकास को नियंत्रित करने वाले अधिकांश कारक हमारे दिन-प्रतिदिन के नियंत्रण से बाहर हैं. खराब पोषण के कारण बालों के झड़ने और पतले होने से रोकने के लिए आप सबसे अच्छा कदम उठा सकते हैं.

ध्यान रखें कि हमेशा संतुलित डाइट और खुद के शरीर में पानी की कमी न होने दें. किसी अन्य बदलाव को महसूस करने पर डॉक्टर से बात कर सलाह ली जानी चाहिए.

References –

 

Share:

About The Author

Kartik bhardwaj

Hi, I have an experience of more than 6 years Ex - Tangerine(To the New), DD News, ABP News, RSTV, Express Magazine and Lybrate Inc.