Select Page

कंडोम का इस्तेमाल कैसे करें – HOW TO USE CONDOM IN HINDI

कंडोम का इस्तेमाल कैसे करें – HOW TO USE CONDOM IN HINDI

कंडोम का इस्तेमाल अनसेफ सेक्स से बचने का एक सबसे आसान और सुरक्षित तरीका है. कंडोम के इस्तेमाल से आप ना केवल अनचाही प्रेगनेंसी से दूर रहते हैं बल्कि असुरक्षित यौन संबंधों से भी बचाते है.

इसलिए सेक्स करने से पहले महिला या पुरुष साथी में से किसी एक को कंडोम पहनना चाहिए. सेक्स एक ऐसी चीज़ है जो इंसान शादी से पहले या शादी के बाद तो करता ही है. 

यौवन आते ही महिला व पुरूष हस्तमैथुन भी करते ही है. जिसके बाद पार्टनर होने पर वह सेक्स करने की भी चाहत रखते हैं.

लेकिन पहली बार सेक्स करने से पहले उन्हें जरूरी बातें पता होनी चाहिए. संभोग की शुरूआत करने से पहले उनके पास जरूरी ज्ञान और कंडोम भी होना चाहिए.

कंडोम का इस्तेमाल कैसे करें – HOW TO USE CONDOM IN HINDI

  • आपको बता दें कि कंडोम पुरुष और महिलाओं दोनों के लिए बाज़ार में उपलब्ध होते हैं. 
  • महिलाओं के लिए फीमेल कंडोम होते हैं, जो रिंग की शेप के होते है और योनि में फिट करने होते है. 
  • जबकि पुरूषों के लिए मेल कंडोम होते है जिन्हें पेनिस पर पहना जाता है. 
  • अगर बात करें पुरुषों के कंडोम के बारे में तो यह कई तरह की क्वालिटी जैसे अलग अलग फ्लेवर, लैटेक्स आदि में उपलब्ध होते है.
  • ऐसे बहुत से लोग है जिनका मानना हैं कि कंडोम के कारण सेक्स के दौरान ठीक से एंजॉय नहीं हो पता है. 
  • लेकिन ऐसा कुछ नही है, बाज़ार में ऐसे कई थीन और डॉटेड कंडोम आते है जिनके उपयोग से ज्यादा टाइम सेक्स कर पूरा मज़ा उठाया जा सकता है.
  • लेकिन फिर भी कुछ लोगों का मानना है कि उन्हे इसका भी कोई असर नही दिखा तो आपको बता दें ऐसा कुछ नहीं होता है. 
  • सारा खेल कंडोम को सही तरीके से पहनने और इस्तेमाल करने का होता है. 
  • खासकर इसमें वो लोग सबसे अधिक होते है जो पहली बार सेक्स करने जा रहे होते है. 

आइए जानें कंडोम को कैसे पहनना चाहिए और पहनने से पहले निम्न बातों को ध्यान रखें-

  • कंडोम के लेबल पर एक्सपायरी डेट चेक करें. डेट निकल जाने पर प्रयोग न करें
  • कंडोम कही से टूटा, फटा या रंगहीन या गंध वाला तो नही है यह जरूर चेक करें.
  • फ्रिक्शन के निशान को चेक करे.

पुरूष कंडोम कैसे पहनते हैं – how to wear male condom in hindi

  • कंडोम पैकेट को सही तरीके से खोलें
  • इसके पैकेट पर दांत बने होते हैं जिसे आसानी से फाड़कर कंडोम निकाला जाता है.
  • इसे कभी भी किसी नुकीली चीज़ से नहीं फाड़ा जाना चाहिए ऐसा करने से कंडोम फट सकता हैं.
  • यह सबसे जरूरी और पहला कदम है.

यह ध्यान से देखें कि कंडोम किस तरफ घूमेगा 

  • खासकर ऐसा करना अँधेरे में थोड़ा मुश्किल ज़रूर होता है.
  • कंडोम का इस्तेमाल करते समय देख लें कि वह किस तरह घूम रहा है.
  • वरना हाथ के अंगूठे पर पहनाकर कि वह किस तरफ से नीचे की ओर आसानी से आएगा देख कर उसी तरह पहना जा सकता हैं.
  • इसके अलावा एक बार इस्तेमाल किया हुआ कंडोम फेक देना चाहिए.

तने हुए लिंग पर ही कंडोम चढ़ाए 

  • कंडोम हमेशा उत्तेजित लिंग पर फिट किया जाना चाहिए.
  • पेनिस के इरेक्ट होने के बाद जिन लोगों के पेनिस टिप पर खाल होती है उसे पीछे की ओर खींचना और फिर पहनना होता है.
  • पेनिस के सिर की खाल पीछे न करने से सेक्स का आनंद नही उठाया जा सकता है.
  • साथ ही इससे समयपूर्व स्खलन का खतरा रहता है.
  • ढ़ीले लिंग पर कंडोम पहनना बहुत मुश्किल होता है.
  • ऐसा नहीं होने पर या तो कंडोम उतर सकता है या फिर उसमें हवा रह सकती है.

कंडोम के इस्तेमाल में होने वाली गलती 

  • कंडोम के इस्तेमाल में नोंक के पास एयरबबल छूट जाता है जो कि सबसे बड़ी गलती हैं.
  • ऐसा होने से इसके फटने के चांस ज्यादा होते हैं.
  • ऐसा न हो उसके लिए कंडोम के आगे वाले उभरे हिस्से को एक हाथ से पकड़कर पिछले हिस्से तक चढ़ाना चाहिए.
  • इसके अलावा कंडोम की नोक को तब तक दबाए जब तक कि वह पूरी तरह से पेनिस पर चढ़ न जाए.

सही टाइम पर पहने कंडोम 

  • कंडोम को सही टाइम पर पहनना बहुत जरूरी है.
  • ऐसा ना होने पर संभोग के समय लिंग को महिलाओं के प्राइवेट पार्ट के पास ले जाने पर प्री-इरेक्शन के कारण भी यौन संक्रमित समस्याएं हो सकती हैं.
  • कंडोम के इस्तेमाल के बाद उसे डिस्पोज कर देना चाहिए.

महिला कंडोम कैसे पहनें – how to wear female condom in hindi

यह पुरूष कंडोम की तुलना में बड़े होते है. अधिकतर महिलाएं इन्हें आरामदायक रूप से इस्तेमाल कर लेती है. इन्हें वेजाइनल या एनल सेक्स के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. साथ ही इनसे एसटीआई से बचाव होता है. इसे पहनने का तरीका –

  • पैकिंग से कंडोम को बाहर निकालते समय ध्यान रखें, दांत या कैंची का इस्तेमाल न करें.
  • आरामदायक पोजीशन में लेटकर पैरो को आराम से खोल लें.
  • कंडोम के अंत वाले सिरे की छोटी अंदर वाली रिंग को अंगूठें और इंडेक्स फिंगर से पींच करें.
  • अपने हाथ का इस्तेमाल करके योनि के आसपास के एरिया को पकड़े.
  • इसके बाद कंडोम की अंदर वाली रिंग को योनि में प्रवेश करा दें.
  • अब अपनी मीडल फिंगल या पहली फिंगर की मदद से कंडोम को अंदर तक पहुँचा दें.
  • कंडोम के सर्विक्स तक पहुँचने तक प्यार से उसे धकेलती रहें.
  • कंडोम की बाहरी रिंग योनि के बाहरी हिस्से पर रहेगी.
  • योनि में पेनिस के प्रवेश के दौरान इस रिंग को पकड़े.
  • अगर बाहरी रिंग सेक्स के दौरान अंदर चली जाती है तो रूककर उसे बाहर निकालें.
  • पेनिस को कंडोम के अंदर डालकर ध्यान रखें कि वह योनि में जाएं न कि कंडोम के बीच में.
  • ऑर्गेज़म या स्खलन के बाद कंडोम को ट्विस्ट करके योनि से बाहर निकाल लें.
  • ध्यान रहें कि सीमेन कही फैल न जाए.

ओरल सेक्स के लिए डेंटल डैम का इस्तेमाल कैसे करें – how to use dental dams for oral sex in hindi

डेंटल डैम एक प्रकार की लैटेक्स शीट होती है जिसका प्रयोग योनि, एनल या ओरल सेक्स के लिए होता है. इसकी मदद से एसटीआई से बचाव होता है. पुरूषों को ब्लोजॉब देने के लिए वह पेनिस पर कंडोम पहन सकते है.

जबकि ओरल सेक्स में महिलाओं की योनि चाटने के लिए डैंटल डेम का इस्तेमाल किया जा सकता है. डैंटल डेम का प्रयोग करने के लिए –

  • इसके पैकेट को ध्यान से खोलें.
  • दांतों से काटकर या कैंची से खोलने यह फट सकता है.
  • खोलने पर डेम को खोले और कटने, फटने वाले नुकसान को देखें.
  • सही होने पर इसे योनि या एनल एरिया पर रखें.
  • ओरल सेक्स के दौरान आपको इसे होल्ड करना होगा जिससे की यह अपने जगह से फिसले नही.
  • ओरल सेक्स हो जाने के बाद इसे फोल्ड करके फैंक दें.

ऐसी ही पुरूषों को ब्लोजॉब के बाद स्खलन होने पर फैंक दें, ध्यान रहें कि सीमेन फैले नही.

इस्तेमाल के बाद कंडोम का क्या करें – what to do with condom after use in hindi

  • चेक करने के लिए कि कही सेक्स के दौरान आपका कंडोम फटा तो नही है इसके लिए उसमें पानी भरकर चेक कर सकते है.
  • जिसके बाद उसे किसी पैकेट आदि में रखकर कुड़े में फेक सकते है.
  • लेकिन ध्यान रहें कि इसे टॉयलेट में फ्लश न करें.

सेक्स के दौरान कंडोम फटने पर क्या करें – what to do if your condom breaks during sex in hindi

  • सेक्स के दौरान कंडोम फटने पर तुरंत उसे अपने पार्टनर के शरीर से हटा दें.
  • इसके बाद नया कंडोम पहना जा सकता है.
  • साथ ही डेंटल डैम के मामलों में भी फटने पर दूसरा इस्तेमाल करें.
  • सेक्स करते समय कंडोम फटने पर आपको सीमेन का डर है तो आप अन्य बर्थ कंट्रोल ऑप्शन ले सकती है.
  • प्रेगनेंसी रोकने के लिए आईयूडी का इस्तेमाल असुरक्षित सेक्स के 5 दिन के भीतर किया जाना चाहिए.
  • आप एसटीआई का टेस्ट करवा कर अपने और पार्टनर को इंफेक्शन का पता लगा सकते है.

अन्य जरूरी बातें

कंडोम चुनते समय निम्न बातों का ख्याल रखें –

  • सबका साइज अलग होता है – ठीक से फिट होने वाला कंडोम लें, बड़ा या छोटा कंडोम मज़ा खराब कर सकता है.
  • प्रेक्टिस से आप बेहतर होते है – मूवमेंट की हीट में कंडोम पहनने की न सोचें, इसके लिए एक्सट्रा कंडोम जरूर रखें.
  • लूब्रिकेशन वाला कंडोम चुनें – इससे योनि में पेनिस के प्रवेश में आसानी रहती है.
  • पार्टनर से बात करें – पार्टनर की पसंद और नपसंद जानने सेक्स का मजा बढ़ जाता है. कंडोम कई फ्लेवर आदि में आते है.

अंत में

कंडोम को बर्थ कंट्रोल करने के लिए काफी प्रभावी माना जाता है. साथ ही एसटीडी से बचने से लिए यह इकलौता तरीका होता है. जब आपको पता होता है कि आपने सुरक्षा ले रखी है तो ऐसे में सेक्स का मजा और भी अधिक हो जाता है. साथ ही इससे बिना प्लान की हुई प्रेगनेंसी और एसटीआई से बचाव होता है और आप रिलैक्स होकर बेहतर सेक्स कर पाते है.