इस लेख में आप जानेंगे हस्तमैथुन क्या है, फायदे, साइड इफेक्ट और घरेलू इलाज –

हस्तमैथुन क्या है? – Masturbation in hindi

चाहे पुरूष हो या महिला दोनों लिंगों के लिए सेक्स की अनुभूति कराने वाला चरमसुख जरूरी है. ऐसे में बहुत से सिंगल लोग जिनकी गर्लफ्रैंड या बॉयफैंड नही होते, वे ऑर्गेज़म न होने के कारण चिड़चिड़े व दुखी रहते है. आज इस लेख के जरिए हम आपको बताने वाले है हस्तमैथुन से जुड़ी सारी जरूरी बातें – (जानें – गर्लफ्रेंड के पापा को कैसे मनाएं)

पुरूषों में हस्तमैथुन

  • पुरूषों की बात करें तो वे अकेले बिना किसी पार्टनर के चरमसुख का मज़ा ले सकते है.
  • इसके लिए उन्हें अपने मन में अश्लील विचार लाने होते है.
  • ये विचार किसी के भी हो सकते है जो बिल्कुल आपकी कल्पना पर निर्भर करता है.
  • जिसके बाद पेनिस में इरेक्शन(खड़ा) होता है.
  • इस दौरान अपने लिंग को पकड़कर मुठ्ठी बंद करना और खाल को आगे पीछे करके इजेकुलेशन (स्खलन) हो जाने को हस्तमैथुन कहा जाता है.

महिलाओं में हस्तमैथुन

  • महिलाओं को भी निराश होने की जरूरत नही है क्योंकि वे पुरूषों की तुलना में इसका अधिक देर तक आनंद उठा सकती है.
  • इसकी शुरूआत अपने किसी पसंदीदा शक्स की कल्पना करके की जाती है.
  • इसके लिए वे अपनी अंगुली को योनि में डालकर जी-स्पॉट को हिट कर सकती है. जिससे उन्हें ऑर्गेज़म होगा, इस प्रक्रिया को महिलाओं में हस्तमैथुन कहा जाता है. 

हस्तमैथुन करने के क्या फायदे होते है? – What are the benefits of Masturbation in hindi

  • एकाग्रता में फायदा होता है
  • प्रोस्टेट समस्या से बचाव
  • महिलाओं में पीरियडस दर्द को कम करता है
  • स्ट्रैस कम करता है
  • अच्छी नींद आती है
  • मूड अच्छा करता है

अधिक हस्तमैथुन के क्या साइड इफेक्ट होते है? – What are the side effects of Masturbation in hindi

  • थकान और कमजोरी
  • दृष्टि की समस्या और आई फ़्लोटर्स
  • बालों का झड़ना हो सकता है
  • स्मरण शक्ति की क्षति
  • पीठ के निचले हिस्से में दर्द
  • शीघ्रपतन और नरम इरेक्शन (पुरुषों में)
  • माध्यमिक रिसाव (पुरुषों में)
  • स्पर्म की गुणवत्ता पर असर
  • महिलाओं में योनि की लिनिंग खराब होना
  • इनफर्टिलिटी (पुरूष व महिला)

हस्तेमैथुन की लत कैसे छोड़ें – How to get rid of addiction of masturbation in hindi 

इसके कई इलाज या उपचार हो सकते है जो निम्न है:

अश्लील चीज़े देखने से बचें

  • दरअसल होता यह है कि कोई भी व्यक्ति जब कुछ अश्लील देखता है तो उसे हस्तमैथुन करने का मन कर सकता है.
  • इसलिए ऐसे में हस्तमैथुन करने से बचें.

एक्सरसाइज

  • जो एक्सरसाइज करने वाले लोग जैसे एथलीट आदि होते है या जिन लोगों को फिट रहना अच्छा लगता है उन्हें हस्तमैथुन नही करना चाहिए.
  • एक्सरसाइज के साथ हस्तमैथुन करते रहने से शरीर फिट नही रह पाता है.
  • इसलिए जो लोग इसे छोड़ना चाहते है उनके लिए जरूरी है कि वे खुद के लिए लक्ष्य बनाए जिससे वह हस्तमैथुन न करने के फैसले पर कायम रह सके.

हस्तमैथुन की आयुर्वेदिक दवा – Ayurvedic medicine for Masturbation in hindi

केसर के साथ दूध

  • सोने से पहले केसर को गर्म दूध में मिलाकर इसका सेवन करने से हस्तमैथुन की लत से छुटकारा पाने में मदद मिलती है.

अदरक

  • वैसे तो अदरक को बहुत से लाभों के लिए जाना जाता है.
  • यह एक प्रभावी एंटीऑक्सीडेंट भी है जो रक्त परिसंचरण में सुधार कर सकती है.
  • इसके लिए रोज़ अदरक और शहद के मिश्रण का सेवन करें और इसे अपने नियमित डाइट में शामिल करें.
  • ऐसा करने से आपको हस्तमैथुन की लालसा से मुक्ति मिलेगी.

क्रैनबेरी और नारंगी

  • क्रैनबेरी और संतरे का रस हर दिन पीना हमारे शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की आपूर्ति करता है.
  • इस प्रकार शारीरिक, मानसिक और यौन थकावट जैसे अधिक हस्तमैथुन जैसे दुष्प्रभाव से हुए नुकसान से भी बचाता है.

रिलैक्स रहें

  • हस्तमैथुन के कारण आप इसे कर लेने के बाद थकावट या खुद को दोष देना आदि अनुभव कर सकते हैं.
  • जहां तक रिलैक्स करने का संबंध है तो इसके लिए आप योग, ध्यान लगाना, मेडिटेशन या मालिश आदि जैसी विभिन्न चीज़े कर सफल हो सकते हैं.
  • इसके अतिरिक्त, ऐसा करने से आप तनाव को कम कर सकते हैं बल्कि खुद को रिलैक्स रख सकते है.

हेल्दी डाइट का सेवन

  • इसके लिए आप अपनी डाइट में सोयाबीन प्रोडक्ट को शामिल कर सकते है.
  • अत्यधिक कैफीन के सेवन को कम करने की कोशिश करनी चाहिए क्योंकि इससे हस्तमैथुन की तलब पर कंट्रोल मिलता है.
  • मूँगफली, सनफलावर सीड, हरी सब्जियों के अलावा मेवों के सेवन में इज़ाफा कर लाभ उठाया जा सकता है.
  • इसके अलावा अधिक सी फूड और रेड मीट और बहुत अधिक डेयरी प्रोडक्ट का सेवन करने से बचना चाहिए.
  • साथ ही सोडा के बजाय, ताज़ा संतरे का रस या क्रैनबेरी रस रोज़ पीना चाहिए.

जिंक रिच डाइट

  • वैसे तो जिंक के बहुत सारे लाभ होते है इसमें मौजूद तत्व हमें कई प्रकार के रोगों से लड़ने और हमारी इम्युनिटी को अच्छा बनाने में मदद करते है.
  • उसी तरह यह अधिक हस्तमैथुन के नकारात्मक दुष्प्रभावों से निपटने में भी मदद करता है.

अंत में

इन बताए गए तरीकों से न सिर्फ आप खुद को फिट रखने में मदद कर सकते है बल्कि ऐसा करने से आप हस्तमैथुन की लत से भी छुटकारा पा सकते है.

References –

Share: